जमीन के विवाद में मामला दर्ज:पीड़ित बोला मां और पत्नी को खतरा, जमीन छीनना चाहते हैं चचेरे रिश्तेदार

बांसवाड़ा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस थाना खमेरा। - Dainik Bhaskar
पुलिस थाना खमेरा।

जमीन हड़पने की नीयत से इकलौते वारिस पर उसके अपने चचेरे रिश्तेदारों ने दो बार हमले किए। अब पीड़ित ने मकान में आग लगाने व पत्नी और मां को आरोपियों से खतरा बताते हुए पुलिस से कार्रवाई की मांग की है। युवक ने पुलिस को बताया कि उसके अकेले बेटे और 5 बेटियां भी आरोपियों के निशाने पर हैं, जिन पर कभी भी हमला हो सकता है।

बांसवाड़ा SP से प्राप्त आदेश के बाद पुलिस ने मामला दर्ज किया है। खमेरा थाना क्षेत्र के बरोड़ा गांव, तहसील घाटोल निवासी शंभू पुत्र कमजी मईड़ा ने थाने में दी रिपोर्ट में बताया कि आरोपी मानजी, गटिया, गौतम, पप्पू, काउड़ी, शारदा, गीता, कल्पा व वैस्ती गांव में ही रहते हैं और रिश्ते में काका-बाबा के परिवार से हैं। शंभू ने बताया कि वह उसके पिता की इकलौती संतान है।

उसके अकेलेपन का फायदा उठाते हुए आरोपी परिवार उसे मकान और जमीन से बेदखल करना चाहते हैं। आरोपियों की ओर से कई बार उस पर हमले हो चुके हैं। आरोपियों ने 24 अक्टूबर को भी उसके परिवार पर हमला बोला था। इसकी रिपोर्ट वह पहले ही थाने में दे चुका है। उन्होंने 4 नवंबर को भी उसके परिवार पर सामूहिक हमला किया। आरोपी मानजी ने उस पर लट्‌ठ से कई वार किए इससे खून से उसकी सफेद शर्ट पूरी लाल हो गई। बीच बचाव में आई उसकी मां रकमी और पत्नी धूली के साथ भी बदमाशों ने मारपीट की। पत्नी धूली ने मामले की रिपोर्ट पुलिस को दी, लेकिन आज दिन तक पुलिस ने मौका पंचनामा भी नहीं बनाया।

खाते की जमाबंदी भी दी
पीड़ित ने बताया कि उसके हिस्से की 112 कृषि भूमि खाता संख्या 186 तथा पुराना खाता संख्या 8 उसके और उसकी मां के नाम पर दर्ज है। वहीं खाता संख्या 360 व 361 में मकान है तथा 363 घरवाड़ा क्षेत्र होकर सिंचित जमीन है। दस्तावेज के हिसाब से यह जमीन उसके कब्जे की है, जिसे आरोपी परिवार छीनना चाहता है।
पत्नी को डाकन बोलकर कर रहे बदनाम
पीड़ित शंभू ने पुलिस को दी रिपोर्ट में बताया कि आरोपी सोची समझी साजिश के तहत उसकी पत्नी धूली को डाकन बताते हुए गांव में बदनाम कर रहे हैं ताकि गांव के लोगों में भ्रम बन जाए। इसके बाद बदमाशों को उसकी बीबी को मारने पीटने का माध्यम मिल जाएगा। पीड़ित ने पुलिस से उसके और परिवार के बयान लेकर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की। अब इस मामले में पुलिस ने FIR दर्ज की है। मामले की जांच ASI राजमल कर रहे हैं।