पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भास्कर स्टिंग:यह कैसा आपदा में अवसर; 450 रुपए का पल्स ऑक्सीमीटर 1800 में बेच रहे हैं

बांसवाड़ाएक महीने पहलेलेखक: विजयपाल डूडी/दिनेश तंबोली
  • कॉपी लिंक

कोरोना की दूसरी लहर में ऑक्सीजन की कमी से ज्यादा पीड़ित हैं। इसलिए इससे जुड़े उपकरणों की मांग भी बढ़ गई है। वहीं मेडिकल स्टोर संचालकों इस आपदा को अवसर के रूप में देख रहे हैं। इस समय ऑक्सीजन, रेमडेसिविर इंजेक्शन के अलावा पल्स ऑक्सीमीटर और ऑक्सीजन रेगुलेटर की काफी डिमांड है। इसलिए मेडिकल स्टोर संचालक मनमाने दाम ले रहे हैं।

जब इसकी शिकायत मिली तो भास्कर संवाददाता ने शहर के करीब 15 मेडिकल पर पड़ताल की। इसमें सामने आया कि मेडिकल संचालक इन उपकरणों को 4-8 गुना महंगे दामों पर बेच रहे हैं। 300 से 500 रुपएका पल्स ऑक्सीमीटर 1800 से में बेच रहे हैं। भास्कर संवाददाता ने एमजी अस्पताल के सामने भास्कर टीम ने मेडिकल की 10 से अधिक दुकानों पर पल्स ऑक्सीमीटर के रेट को लेकर पड़ताल की।

कहीं पर 1400 तो कहीं पर 1800 रुपए मांगे गए। पास में ही एक दुकानदार ने 1800 रुपए मांगे। कहा कि पहले 400-500 रुपये में आता था, अब मनमर्जी के रेट बना लिए हैं। इतना महंगा देने की बात पर पूछा तो दुकानदारों ने कहा कि माल ही नहीं मिल रहा है। हम क्या करें।

भास्कर पड़ताल में यह भी सामने आया कि जिले में लंबे समय से ड्रग इंस्पेक्टर का पद रिक्त है। इसलिए अभी किसी भी मेडिकल स्टोर की जांच ही नहीं हुई। न ही आम लोगों को शिकायत करने के लिए कोई स्थान पता है। इसलिए मेडिकल संचालक मनमाने दाम ले रहे हैं।

गांधी मूर्ति: अशोक मेडिकल- ऑक्सीमीटर की रेट-1450

मेडिकल स्टोर संचालक ने बताया कि आपको 1450 रुपए में मिलेगा। इस पर कोई रेट नहीं लिखा हुआ है। ओरिजनल की रेट 600-700 रुपए होगी। लेकिन होलसेल वाले भी हमें 1250 रुपए में दे रहे हैं। 12.50 प्रतिशत टैक्स लगा रहे हैं। साथ ही इस ऑक्सीमीटर को भी गारंटी नहीं हैं। जब हमें ही होलसेल वाले इतना महंगा दे रहे हैं तो बताओ हम क्या कर सकते हैं। कोरोना के चक्कर में रेट बढ़ा दिए हैं।

एमजीएच चौराहा: पारस मेडिकल-ऑक्सीमीटर की रेट-1600

दुकानदार ने बताया की ऑक्सीमीटर की रेट 1600 रुपए हैं। क्या करें आगे ही रेट बहुत ज्यादा आ रही है। मैं खुद 1250 रुपए में आया है। आप 100 रुपए कम दे देता हूं, आप 1500 रुपए ही दे दो। इससे कम नहीं होगा। 500-600 रुपए का जमाना चला गया है। यह सही है की यह 500-600 वाले ही है लेकिन अब रेट इतनी ज्यादा बढ़ गई है। अब 500-600 में तो कहीं नहीं मिलेगा।

एमजीएच के पीछे: गोल्डी मेडिकल-ऑक्सीमीटर की रेट-1800

दुकानदार ने बताया कि 1800 रुपए का ही मिलेगा। आगे से ही महंगे आ रहे हैं इसमें हम क्या करें। प्रिंट रेट तो इस पर नहीं लिखा है। कंपनी कोई नहीं है सब बढ़िया है। इससे सस्ता तो आपको नहीं मिलेगा। 500-600 रुपए में तो कोई ऑक्सीमीटर नहीं हैं। केवल हमारे पास एक ही रेट का है 1800 रुपए का। आप सस्ते की बात कर रहे हो माल ही नहीं आ रहा है। 1800 रुपए से एक रुपए कम नहीं होगा।

पल्स ऑक्सीमीटर क्यों जरूरी?
पल्स ऑक्सीमीटर एक छोटे से डिवाइस का नाम है जो खून में ऑक्सीजन सेचुरेशन लेवल और ऑक्सीजन लेवल की जानकारी देता है। डिवाइस को उंगली में क्लिप की तरह फंसाया जाता है। इसके बाद सेंसर खून में ऑक्सीजन के प्रवाह की जानकारी देता है। डिजिटल स्क्रीन पर ऑक्सीजन सेचुरेशन लेवल 95 से 100 के बीच है, तो घबराने की कोई जरूरत नहीं है। अगर यह 92 या उससे नीचे दिखे तो हाइपोक्सिया या ब्लड टिश्यू में ऑक्सीजन की कमी हो सकती है।

ड्रग इंस्पेक्टर सुरेश सामर से सीधी बात

भास्कर: जीवन रक्ष दवा को लेकर कालाबजारी हो रहो रही है आपने इस दौरान कितने मेडिकल स्टोर की जांच की?
ड्रग इंस्पेक्टर: यहां ड्रग इंस्पेक्टर का पद खाली है, अभी तक किसी मेडिकल स्टोर की जांच नहीं की है। शिकायत मिलेगी तो कार्रवाई भी करेंगे।

आपके पास को रेट ज्यादा लेने का मामला या कालाबजारी को लेकर कोई शिकायत पहुंची है? -नहीं अभी तो शिकायत नहीं पहुंची है, शिकायत पहुंचेगी तो हम डूंगरपुर से ड्रग इंस्पेक्टर को बुलाकर यहां जांच करवाएंगे और कार्रवाई भी करवाएंगे।

भास्कर की पड़ताल में सामने आया है कि ऑक्सीमीटर मेडिकल स्टोर पर 1800 रुपये तक बिक रहा आप क्या करेंगे? - ऑक्सीमीटर हमारे अंडर में नहीं है। इसको कोई भी लाकर बेच सकते हैं, इसमें हम कोई कार्रवाई नहीं कर सकते हैं। यह एक उपकरण है यह तो कोई दुकानदार बेच सकता है। अन्य दवाई के मामले में हम कार्रवाई करेेंगे।

खबरें और भी हैं...