पानी की समस्या:माही का पानी अब तक छोटी सरवन क्षेत्र के किसानों को क्यों नहीं-कटारा

बांसवाड़ाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कटारा का स्वागत करते प्रदेश स्तरीय संगठन के सदस्य। - Dainik Bhaskar
कटारा का स्वागत करते प्रदेश स्तरीय संगठन के सदस्य।

भारतीय जनता पार्टी के अनुसूचित जनजाति मोर्चा के प्रदेश स्तरीय संगठन के सदस्य राजेश कटारा ने कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की। इस दाैरान उन्होंने कहा कि छोटी सरवन क्षेत्र में विगत 37 सालों से किसानों को पानी की समस्या है।

माही का पानी जालौर और गुजरात जा रहा है लेकिन माही के किनारे बसे 21 ग्राम पंचायत के लोगों को माही का पानी नसीब नहीं हो रहा है। कांग्रेस के 2,2 मंत्री हैं दोनों के पास पानी का विभाग है। अधिकारियों से चर्चा कर क्षेत्र का भला कर सकते हैं अगर वह मंत्री रहते हुए भी भला नहीं करते हैं तो भारतीय जनता पार्टी माही के पानी छोटी सरवन क्षेत्र में पहुंचाने के लिए विपक्ष की भूमिका निभाते हुए प्रदर्शन और आंदोलन करेगी।

2023 में कांग्रेस के इन दोनों मंत्रियों को जनता सबक सिखाएगी क्योंकि 2016 में खुद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने छोटी सरवन के एक चुनावी सभा में इस क्षेत्र को माही का पानी देने का वादा किया था।

खबरें और भी हैं...