प्रशासन ने की कार्रवाई:परतापुर-गढ़ी नगरपालिका क्षेत्र में जेसीबी से अतिक्रमण हटाया

परतापुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रशासन की मौजूदगी में अतिक्रमण तोड़ती जेसीबी। - Dainik Bhaskar
प्रशासन की मौजूदगी में अतिक्रमण तोड़ती जेसीबी।
  • नगरवासियों के ज्ञापन और शिकायत पर भी नहीं हो रही थी कार्रवाई, भास्कर की खबर पर की नगरपालिका प्रशासन ने की कार्रवाई

नगरपालिका परतापुर-गढ़ी क्षेत्र में किए गए अतिक्रमण को पालिका प्रशासन ने हटाने का काम शुरू कर दिया है। यहां भूमाफियाओं ने स्कूल मैदान, नाले, सड़क, गली, सार्वजनित कुओं आदि पर कब्जा कर रखा है। भूमाफिया शनिवार को बेशकीमती जमीन पर अतिक्रमण कर मक्का निर्माण कर देते हैं ताकि रविवार को छुट्‌टी होने के कारण कोई कार्रवाई भी न हो। कई बार क्षेत्रवासियों ने नगरपालिका प्रशासन से इस अतिक्रमण की शिकायत की, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई।

30 नवंबर को भास्कर में प्रकाशित खबर के बाद पालिका प्रशासन ने एक्शन लेते हुए मंगलवार से नगरपालिका क्षेत्र में जेसीबी से अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई शुरू कर दी। ग्रामीणों ने बताया था कि गढ़ी सीएचसी के पास खाली जमीन जो अस्पताल में जाने का रास्ता है, इस पर भूमाफियाओं ने अतिक्रमण कर लिया है। इधर, निर्माण करने वाले नजर मोहम्मद निसार मोहम्मद सिंधी का कहना था कि यह जमीन उसके खाते में है। यह जमीन राव इंद्रजीतसिंह ने उनके नाम की थी, जिसकी रसीद भी उनके पास है।

इसको लेकर भास्कर ने 30 नवंबर को नगरपालिका क्षेत्र में बढ़ रहा अतिक्रमण, शिकायत के बाद भी नहीं हो रही कार्रवाई नाम के शीर्षक से समाचार प्रकाशित किया था। इसके बाद मंगलवार को नगर पालिका अध्यक्ष दिलीप परमार व अधिषाशी अधिकारी कुन्दन देथा के निर्देशन में जेईएएन विजय दांतला, जमादार हिरालाल, मुकेश व कर्मचारी दीपेश मेहता की मौजूदगी में जेसीबी से यह अतिक्रमण तोड़ा गया। साथ ही दोबारा कब्जा करने पर सख्त कार्रवाई करने की चेतावनी दी।

आधा प्लाट नहीं दिया इसलिए निर्माण तोड़ा

जमीन पर अतिक्रमण करने वाले नजर मोहम्मद ने बताया कि डेढ़ माह पहले नगरपालिका के लोग उसके पास आए और कहा कि 30 गुणा 60 के प्लॉट में से आधे पर वह मकान बना ले और आधा प्लाट नगरपालिका को दे, नजर मोहम्मद ने बात नहीं मानी। वहीं मंगलवार सुबह कार्रवाई से पहले वार्ड पार्षद अनवर खान आकर कहने लगा कि डेढ़ लाख रुपए ले लो और यहां से कब्जा हटा लो। उसकी बात भी नहीं मानी इसलिए उसके प्लाट पर बने झोपड़े को तोड़ दिया। नजर मोहम्मद ने बताया कि उसकी पत्नी की डिलेवरी होने वाली है, ऐसे में वह उसे लेकर कहां जाए।

खबरें और भी हैं...