पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कार्यक्रम:भगवान चंद्रप्रभु के जन्म कल्याणक पर अभिषेक किया, झूला झुलाया

सागवाड़ा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कर्म बंधन से मुक्त होने के बाद आध्यात्मिक योग्यता प्रकट होती है: आचार्य

नगर के चंद्रप्रभु दिगंबर जैन मंदिर में शनिवार को जैन धर्म की वर्तमान चौबीसी के आठवे तीर्थंकर भगवान चंद्रप्रभु और तेइसवे तीर्थंकर भगवान पाश्वनाथ का जन्म कल्याणक व तप कल्याणक महोत्सव मनाया। श्रद्धालुओं ने मंदिर में प्रतिष्ठाचार्य विनोद पगारिया विरल के निर्देशन में गर्भ गृह परिसर में स्थापित मूलनायक चंद्रप्रभु भगवान और शृंंगार चौकी में पांडूक शिला पर स्थापित भगवान पार्श्वनाथ की प्रतिमा पर विविध द्रव्य पूरित कलशों से अभिषेक किया। मंदिर कमेटी के अध्यक्ष राजेंद्र पंचोरी ने बताया कि मध्य वेदी पर स्थापित प्रतिमा पर कपिल पंचोरी, पांडूक शिला में स्थापित प्रतिमाओं पर कुसुमकांत पंचोरी व साधना रिनेष कोठारी और मूलनायक चंद्रप्रभु की प्रतिमा पर राजेंद्र पंचोरी परिवार ने शांतिधारा की। महिला मंडल ने अष्ट द्रव्य से चंद्रप्रभु विधान किया और पूजन के समापन पर आरती उतारी। आयोजन में श्रद्धालुओं ने उत्साह के साथ हिस्सा लिया।

पुनर्वास कॉलोनी के दिगंबर जैन मंदिर में वैज्ञानिक धर्माचार्य कनकनंदी गुरुदेव ससंग के सानिध्य में पार्श्वनाथ व चंद्रप्रभु भगवान का जन्म व तप कल्याणक मनाया। इस अवसर पर भगवान पार्श्वनाथ व चंद्रप्रभु का पंचामृत अभिषेक व शांति धारा हुई। ब्रह्मचारी खुशपालजी के सानिध्य में भगवान के पांचों कल्याणक बनाए गए। जन्म कल्याणक के अवसर पर श्रद्धालुओं ने भगवान का झूला झुलाया। आचार्य कनकनंदी महाराज ने देश विदेश के वैज्ञानिकों की वेबिनार में संबोधित किया।

जिसमें आचार्य ने कहा कि कर्म बंधन से मुक्त होने के बाद आध्यात्मिक योग्यता प्रगट होती है। गुरुदेव ने आप्त की परिभाषा बताते हुए कहा कि जो यथार्थवादी, संशय, विभ्रम, विपर्यय, अनध्यवसाय से रहित होते हैं, वे आप्त है। आप्त का अर्थ प्रामाणिक है। जिनके वचन प्रामाणिक हैं जो परम सत्य यथार्थ सत्य को प्रतिपादित करने में सक्षम हैं। संसारी लोग दीन हीन भाव से ग्रसित होने के कारण उनमें घमंड होता है। निर्दोष बनने के लिए धर्म होता है, उसका अनुसरण करना आवश्यक है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से उत्साह में वृद्धि होगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी विजय हासिल...

    और पढ़ें