गर्ल्स कॉलेज का हाल:विद्या संबल योजना में लगी फैकल्टी हटाई नतीजा: 1500 छात्रों पर मात्र 3 व्याख्याता

बारां9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • परीक्षा नजदीक और सिलेबस भी अधूरे, विद्यार्थियों में पढ़ाई को लेकर बढ़ी चिंता

जिले समेत राज्यभर में व्याख्याताओं की कमी को देखते हुए पिछले दिनों कॉलेज आयुक्तालय की ओर से विद्या संबल योजना शुरू की गई थी। याेजना के तहत दिसंबर में फैकल्टी लगाई गई थी, जिन्हें अप्रैल में कार्यमुक्त कर दिया गया। जबकि अभी तक सिलेबस ही पूरा नहीं हुआ है। अस्थाई फैकल्टी हटा देने से छात्रों को भी परेशानी का सामना करना पड़ेगा। कॉलेज शिक्षा आयुक्तालय ने 10 मई से कॉलेज में ग्रीष्मकालीन अवकाश घोषित कर दिए हैं।

इसके खत्म होने के साथ ही परीक्षाएं शुरू हो जाएंगी। जबकि सिलेबस अभी पूरा नहीं हुअा। ऐसे में छात्रों को भी परीक्षा अायोजन होने तक सिलेबल पूरा होने पर संशय बना हुआ है। वहीं कॉलेजों में वापस से व्याख्याताओं की कमी हो गई है।शहर के गर्ल्स कॉलेज में विद्या संबल याेजना के तहत लगे हुए व्याख्याता हटा दिए है। इससे अब यहां पर 1500 छात्राओं पर केवल 3 व्याख्याता है। ऐसे में कॉलेज में कार्य के साथ-साथ छात्रओं की पढ़ाई का नुकसान होने की संभावना है। गर्ल्स कॉलेज में एमए प्रीवीयस हिंदी की छात्रा गुंजन सोनी व शिवानी यादव ने बताया कि अब तक केवल 60 फीसदी सिलेबस पूरा हुआ है।

आगामी समय में ग्रीष्मावकाश के बाद परीक्षा होगी, व्याख्याता नहीं होने से सिलेबस भी पूरा नहीं हो पाएगा। जिसके कारण परेशानी का सामना करना पड़ेगा। सिलेबस पूरा नहीं होने से रिजल्ट पर भी प्रभाव पड़ने की आशंका है। छात्राअों ने कॉलेज प्रशासन से मांग की है कि जल्द ही कोर्स पूरा कराए, जिससे छात्राओं को परेशानी नहीं हो।

खबरें और भी हैं...