बारां के मांगरोल कस्बे में पूरी तरह बंद रहे बाजार:हिंदू संगठनों ने निकाली वाहन रैली, उदयपुर हत्याकांड के दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग

बारां3 महीने पहले
हिंदू संगठनों के प्रदर्शन के दौरान कस्बे में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए जगह-जगह पुलिस बल तैनात किया गया।

उदयपुर हत्याकांड के विरोध में बारां जिले का मांगरोल और बमोरीकलां कस्बा बन्द रहा। हिन्दू संगठनों, बजरंगदल, विश्व हिंदू परिषद और बीजेपी ने दोनों कस्बों में बंद का आह्वान किया था, जिसे व्यापारियों ने भी समर्थन दिया। सोमवार को सुबह से ही मांगरोल उपखण्ड मुख्यालय ओर बमोरीकलां कस्बे में बाजार बंद रहे। बंद समर्थकों ने कस्बे में वाहन रैली निकाली और इस हत्याकांड के विरोध में जमकर नारेबाजी कर प्रदर्शन किया।

भाजपा नगर अध्यक्ष पीयूष विजय ने बताया कि उदयपुर में कन्हैयालाल टेलर की नृशंस हत्या हमारी सनातन संस्कृति पर आतंकियों का सीधा प्रहार है। सरकार की ओर से इन दोषियों पर कठोर कार्रवाई नहीं जा रही है। प्रदेश में लगातार इस तरह की घटनाएं सामने आ रही है, लेकिन प्रदेश की कानून व्यवस्था चरमराई हुई है। इससे पहले भी भीलवाड़ा, करौली सहित अन्य जगहों पर इस तरह की घटनाएं हो चुकी है। उदयपुर हत्याकांड के विरोध में सोमवार सुबह से पूरा मांगरोल ओर बमोरीकलां कस्बा बंद रखा गया है। लोगों का कहना था कि उदयपुर घटना के मामले में आरोपियों को फांसी की सजा दी जानी चाहिए। बंद के दौरान शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए कस्बे में जगह-जगह पुलिस बल तैनात किया गया।