अच्छी खबर:नर्सिंग कॉलेज के लिए जमीन आवंटित भवन व हॉस्टल निर्माण के टेंडर जारी

बारां6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 21 करोड़ की लागत से बनेगा कॉलेज, अगले सत्र से पढ़ाई शुरू होने की उम्मीद
  • प्रथम सत्र में 60 सीटों पर प्रवेश, 90-90 क्षमता के दो हॉस्टल भी बनेंगे

जिले में चिकित्सा शिक्षा को लेकर लगातार अवसर बढ़ते जा रहे हैं। जिला मुख्यालय पर बहुप्रतीक्षित मेडिकल कॉलेज के साथ ही नर्सिंग कॉलेज भी खुलने जा रहा है। इसको लेकर तैयारी शुरू कर दी है। हाल ही में नर्सिंग कॉलेज के लिए जिला प्रशासन की ओर से जमीन आवंटित कर दी गई है। इससे पहले राज्य सरकार की ओर से 21 करोड़ रुपए बजट की स्वीकृति मिल चुकी है। जमीन मिलने के बाद कॉलेज के भवन व हॉस्टल निर्माण को लेकर जल्द ही कार्य शुरु होगा। निर्माण कार्य को लेकर आरएसआरडीसी ने शनिवार को टेंडर प्रक्रिया के लिए निविदा जारी कर दी है। बारां में सरकारी नर्सिंग कॉलेज खुलने से जिले के विद्यार्थियों को खासी राहत मिलेगी। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री ने बजट में 18 जिलों में आगामी सत्र में बांसवाड़ा, बारां, चित्तौड़गढ़, दौसा, डूंगरपुर, हनुमानगढ़, जैसलमेर, जालौर, झालावाड़, झुंझुनूं, नागौर, प्रतापगढ़, राजसमंद, सवाईमाधोपुर, सिरोही, टोंक, श्रीगंगानगर व टोंक जिलों में नए नर्सिंग कॉलेज खोलने की घोषणा की गई थी। सरकार की ओर से अगले सत्र से कॉलेज में पढ़ाई शुरू करने का लक्ष्य तय किया है। जिला मुख्यालय पर बनने वाले बीएससी नर्सिंग कॉलेज के भवन और हॉस्टल निर्माण के लिए संयुक्त शासन सचिव ने करीब 21 करोड़ रुपए के बजट की मंजूरी दी है। नर्सिंग कॉलेज के लिए जिला प्रशासन की ओर से प्रस्तावित मेडिकल कॉलेज की जमीन से कुछ ही दूर करीब 2 हेक्टेयर जमीन आवंटित की है।

डेढ़ साल में कार्य पूरा करने का लक्ष्य, भवन निर्माण जल्दी होगा
आरएसआरडीसी परियोजना निदेशक मनोज माथुर ने बताया कि बीएससी नर्सिंग कॉलेज के निर्माण काे लेकर 21 करोड़ रुपए का बजट स्वीकृत हुआ है। कॉलेज में पहले में कुल 60 सीटों प्रवेश किया जाएगा। सरकार से प्राप्त बजट से कॉलेज भवन व 90-90 छात्र व छात्राओं की क्षमता के दो हॉस्टल तैयार किए जाएंगे। निर्माण कार्य के टेंडर को लेकर आरएसआरडीसी की ओर से उच्चाधिकारियों के निर्देश पर करीब 13 करोड़ रुपए के कार्यो की निविदा जारी कर दी है। टेंडर प्रक्रिया 10 अक्टूबर तक चलेगी। इसके बाद संवेदक फर्म को वर्कआर्डर जारी होने पर निर्माण कार्य शुरु होगा। अधिकारियों ने बताया कि निर्माण कार्य करीब डेढ़ साल में पूरा करने का लक्ष्य रखा है। लेकिन कॉलेज भवन का निर्माण जल्द ही करवाया जाएगा।

खबरें और भी हैं...