भास्कर खास:विशेष पीटीएम की शाला दर्पण पर की जाएगी ट्रैकिंग

बारां2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पहली बार स्कूल स्तर पर तीन दिसंबर को होगी अभिभावक-शिक्षक बैठक

जिले में पहली बार 3 दिसंबर को स्कूल स्तर पर होने वाली पीटीएम (विशेष अभिभावक-शिक्षक बैठक) की रिपोर्ट शाला दर्पण पर एंट्री की जाएगी। बारां जिले में तीसरी से आठवीं क्लास वाले 1231 स्कूल हैं। तीन दिसंबर को दोपहर 12 बजे होने वाली इस पीटीएम में आने वाले अभिभावकों की संख्या स्कूल को उसी दिन शाला दर्पण पर भेजनी होगी। यह विशेष पीटीएम इसलिए हो रही है, क्योंकि तीन से पांच नवंबर को तीसरी से आठवीं तक बच्चों में लर्निंग लोस गेप दूर करने के लिए विभाग की ओर से ब्रिजकोर्स चलाया गया था, जिसका पहला मूल्यांकन तीन से पांच नवंबर को हुआ।

इस विशेष पीटीएम में पहले मूल्यांकन की रिपोर्ट अभिभावकों को दी जाएगी। सीडीईओ शशि मीणा ने बताया कि इस पीटीएम से पहले स्कूल को कक्षा तीन से आठवीं तक स्टूडेंट्स के रिपोर्ट कार्ड डाउनलोड करने होंगे। इसके लिए विभाग की वेबसाइट, शाला संवाद एवं शाला दर्पण के माध्यम शाला के स्कूल लॉगइन के माध्यम से प्राप्त कर सकेंगे। संस्था प्रधान को पीटीएम के लिए अभिभावकों को सूचना देनी होगी, ताकि स्टूडेंट्स वार आकलन रिपोर्ट कार्ड (होलिस्टिक रिपोर्ट) दी जा सके। इस विशेष पीटीएम में अभिभावकों की उपस्थिति 100 फीसदी के लिए संस्था प्रधान को पाबंद कर रहे हैं। क्योंकि इसकी रिपोर्ट शाला दर्पण पर देनी होगी।

तीन स्टार वाले स्टूडेंट्स ट्रेंड माने जाएंगे, कम वाले अनट्रेंड
राजस्थान में शिक्षा के बढ़ते कदम कार्यक्रम को लेकर तीसरी से आठवीं के हुए मूल्यांकन परीक्षा की रिपोर्ट उसकी दक्षता को प्रदर्शित करेगी। इसमें स्टार सिंबल होंगे, जिसकी अधिकतम संख्या तीन होगी। तीन स्टार वाले स्टूडेंट्स दक्ष माने जाएंगे, जबकि तीन स्टार से कम वाले स्टूडेंट्स कमजोर माने जाएंगे। पीटीएम में शिक्षक बच्चों के अभिभावकों को उनकी पढ़ाई के स्तर की रिपोर्ट कार्ड के माध्यम से जानकारी देंगे।

खबरें और भी हैं...