ठंड से बचाव को लेकर जसोल धाम की पहल:विद्यालयों में बांटे जा रहे 3 हजार स्वेटर और जैकेट, कोविड प्रोटोकॉल के तहत आगामी आदेश तक मन्दिर बन्द

बालोतरा4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सामाजिक सरोकार के कार्यों में हमेशा अग्रणी बना रहने वाला श्री राणी भटियाणी मन्दिर ट्रस्ट की ओर से सरकारी विद्यालयों में पढ़ने वाले छात्र छात्राओं को सर्दी के मौसम में ठंड से बचाव के लिए स्वेटर का वितरण किया गया।

शनिवार को जसोल गांव के एस एन वोहरा राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय, सुआदेवी राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय, राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय अमरपुरा, राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय प्रजापतों की ढाणी नयापुरा, राजकीय प्राथमिक विद्यालय भीलबस्ती में पढ़ने वाले बालक बालिकाओं को ट्रस्ट के द्वारा ठंड से बचने के लिए स्वेटर वितरण किया गया। मन्दिर प्रबन्ध कमेटी सदस्य फतेह सिंह जसोल ने बताया कि कोरोना की वैश्विक महामारी के पहले और दूसरी लहर में श्री राणी भटियाणी मन्दिर ट्रस्ट मानवीय सरोकार के कार्य में आगे रहा। अब सर्दी के मौसम में जसोल के समस्त सरकारी विद्यालयों में तीन हजार स्वेटर का वितरण किया जाएगा।

वहीं मन्दिर ट्रस्ट अध्यक्ष रावल किशनसिंह जसोल ने कोरोना के फिर से बढ़ते प्रभाव को लेकर जिम्मेदारी के साथ प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के आदेशों का पालन करने की बात कही। उन्होंने कहा कि विद्यालयों में अध्ययन करने वाले जिन बालक बालिकाओं ने 15 वर्ष की आयु को पूर्ण कर लिया है और अभी तक कोरोना टीकाकरण नहीं करवाया है वे समय रहते करवाले ताकि कोरोना संक्रमण को फैलने से रोका जा सके।

इस दौरान एस एन वोहरा राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय के प्रधानाचार्य विजयसिंह राजपुरोहित ने कहा कि श्री राणी भटियाणी मन्दिर संस्थान की इस अनुकरणीय पहल से सर्दी के मौसम में अध्ययन को आने वाले बालक बालिकाओं को ठंड से बचाव का सहारा दिया है। विद्यालय परिवार स्वागत करता है। इस दौरान वरिया महंत गणेशपूरी जी महाराज, लालसिंह असाड़ा, मांगूसिंह जागसा, जगदीश गोस्वामी, आसूसिंह सहित विद्यालय के कर्मचारी मौजूद रहे।

आगामी आदेश तक मंदिर के कपाट रहेंगे बन्द

कोविड प्रोटोकॉल के तहत श्रद्धालुओं के लिए मंदिर में दर्शन को बंद कर दिया गया है। जनहित में दर्शनार्थियों, जसोल ग्राम वासियों और संस्थान कर्मचारियों की सुरक्षा और बचाव के लिए कपाट बंद किए गए है। दर्शनों को लेकर आने वाले भक्तों को मन्दिर में प्रवेश की अनुमति नहीं मिलेगी। मंदिर ट्रस्ट इस दौरान श्रद्धालुओं से अपील करता है कि कोरोना का टीकाकरण करवाए जिससे कोरोना की तीसरी लहर से बचा जा सके। सभी भक्तगण मंदिर संस्थान के वेबसाइट व सोशल मीडिया के माध्यम से जुड़कर घर बैठे दर्शन लाभ ले

खबरें और भी हैं...