प्रसूताओं के लिए नाहटा अस्पताल में दिए 560 कंबल:कोरोना की दूसरी लहर में वरदान साबित हुए श्री राणी भटियाणी मंदिर संस्थान से मिले उपकरण : पीएमओ बीएस गहलोत

बालोतरा5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बालोतरा के श्री राणी भटियाणी मंदिर संस्थान जसोलधाम की ओर से गुरुवार को वरिया महंत श्री गणेश पूरी महाराज के पावन सानिध्य में राजकीय नाहटा जिला चिकित्सालय में 560 कंबल दिए गए। जिनका उपयोग आगामी महीनों में अस्पताल में आने वाली प्रसूताओं के लिए होगा।

इस दौरान पुलिस उपाधीक्षक धनफुल मीणा ने कहा कि श्री राणी भटियाणी मंदिर संस्थान पिछले कई वर्षों से मानवीय सेवा कार्यो को कर रहा है। संस्थान अध्यक्ष रावल किशनसिंह जी जब से प्रशासनिक पद से सेवानिवृत्त हुए हैं उसके बाद सेवा कार्यो को बखूबी ढंग से निभा रहे है। जो एक आदर्श के रूप में है।

नाहटा अस्पताल प्रमुख चिकित्सा अधिकारी डॉ भवानीशंकर गहलोत ने कहा कि कोरोना के दूसरी लहर में जब ऑक्सीजन की मारामारी चल रही थी, तब श्री राणी भटियाणी मंदिर संस्थान ने पहले आगे आकर 15 ऑक्सीजन कन्संटेटर मशीन, 5 मल्टी पैरामॉनिटर मशीनें, 15 टेबल टॉप प्लस ऑक्सीमीटर व 100 ऑक्सीजन मास्क आदि मेडिकल उपकरण अस्पताल को भेंट किए, मरीजों के लिए वरदान साबित हुए है। आज भी अस्पताल में पहुंचने वाले मरीजों को उसका लाभ मिल रहा है।

मन्दिर संस्थान अध्यक्ष रावल किशनसिंह जसोल ने कहा कि संस्थान ने हमेशा सेवा को अपना कर्म समझा है। जब भी अस्पताल को किसी भी उपकरण की आवश्यकता हुई है और मंदिर संस्थान को अवगत कराया गया तो संस्थान ने बिना किसी देर किए उसकी व्यवस्था करवाई। उन्होंने कहा कि कोरोना की पहली व दूसरी लहर में अस्पताल प्रभारी डॉ बलराजसिंह पंवार ने जो कार्य किया है। वो सराहनीय है।

कोरोना संक्रमित लोगो को सेवा में जुटे फ्रंट लाइन वॉरियर्स भी साधुवाद के पात्र हैं, जिन्होंने अपनी जान पर खेल कर जान बचाने का कार्य किया। नाहटा अस्पताल डिप्टी कंट्रोलर बालकिशन प्रजापत ने भी मंदिर संस्थान के द्वारा किए जा रहे कार्यों की प्रशंसा की।

इस दौरान प्रमुख चिकित्सा अधिकारी बी एस गहलोत ने संस्थान अध्यक्ष रावल किशनसिंह को अस्पताल का निरीक्षण करवाते हुए अस्पताल की व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी दी। उन्होंने आईसीयू वार्ड व मेडिकल वार्ड में मरीजों को शौचालय संबंधी समस्याओं के बारे में बताते हुए उसके लिए संस्थान द्वारा निर्माण कार्य करवाने का आग्रह किया गया।

जिसको लेकर संस्थान अध्यक्ष ने कहा कि आप इसको लेकर प्रपोजल बना कर भेजे जिस पर संस्थान की ओर से हर संभव सहयोग किया जाएगा। इस दौरान गुलाबसिंह डंडाली, लालसिंह असाड़ा, सूरजभान सिंह दांखा, मांगूसिंह जागसा, मोहनभाई पंजाबी, मोहनलाल पंवार, राजेश पंजाबी, जेठूसिंह, मदनेश पंवार सहित अस्पताल के कार्मिक मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...