स्कूले के बच्चों को बांटे खिलौने:मंदिर संस्थान ने कहा-खेल खेल में सीखते हैं बच्चे

बालोतरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बालोतरा उपखंड क्षेत्र के जसोलधाम सामाजिक सरोकार की भावना के साथ श्री राणी भटियाणी मन्दिर संस्थान लगातार कार्य कर रहा हैं। समय समय पर उपखण्ड क्षेत्र के अनेकों विधालयो में छात्रों की आवश्यकता को लेकर सामग्री को वितरित किया गया हैं। उसी कड़ी में शनिवार को राजकीय प्राथमिक विद्यालय भील बस्ती और राजकीय प्राथमिक विद्यालय जोगी बस्ती आवासन मण्डल के नन्हे विद्यार्थियों को खेलने के लिए खिलौने बांटे गए।

इस दौरान कुंवर हरिश्चंद्र सिंह जसोल ने कहा कि श्री राणी भटियाणी संस्थान उन बालको को स्कूल से जोड़ने में अहम भूमिका बन रहा है। जिन परिवारों के बालक स्कूल जाने से वंचित रहते है। छात्रों को खेल खेल के माध्यम से आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया जाए, उसी को लेकर स्कूलों में खिलौने बांटे गए। जिससे छात्र विद्यालय आ सके और बच्चों को पढ़ाई से जोड़ सके।

इस दौरान जेतमालसिंह ने कहा कि सरकारी स्कूल में बच्चे खेल-खेल में सीखते है। उसी को लेकर मन्दिर संस्थान की और से बच्चों के लिए खेल खिलौने सहित जरूरी संसाधन मुहैया कराए गए हैं। जिससे विद्यालय में बच्चों को किसी भी असुविधा का सामना ना करना पड़े। आजकल छोटे-छोटे बच्चों पर पढ़ाई के लिए ढेर सारी किताबों का बोझ लाद दिया जाता है, लेकिन संस्थान ने जहां पर खेल के माध्यम से उनका विकास हो सके उसको लेकर खिलौने बांटे हैं।

वहीं मन्दिर ट्रस्ट प्रबंध कमेटी सदस्य फतेहसिंह जसोल ने कहा कि जिस प्रकार खाने से शरीर और खिलौनो से बच्चों का मानसिक विकास होता है। उसी दिशा में बच्चों को शिक्षा संबंधित खिलौने बाटें और उनका उत्साहवर्धन किया। इस दौरान कार्यवाहक पीओ जगदीश गोस्वामी, प्रधानाचार्य ललिता खत्री, रोहितसिंह नरूका, कमला चौधरी, पुष्पा चौधरी, श्रवण कुमार, कमला मेघवाल मौजूद रहे।

एसडीएम सोनी ने पत्नी के साथ किए दर्शन
उपखण्ड अधिकारी नरेश सोनी ने जसोलधाम पहुंच दर्शन पूजन कर खुशहाली की कामना की। बालोतरा उपखण्ड अधिकारी पद से आसपुर तबादला होने के चलते एसडीएम सोनी शनिवार को सपत्नीक जसोलधाम पहुंचे और मंदिरों के दर्शन किए। मन्दिर ट्रस्ट की ओर से क्षेत्र में आपके अनुकरणीय योगदान को लेकर किए कार्यो की लेकर सराहना करते हुए स्मृति चिन्ह देकर स्वागत बहुमान किया गया। इस दौरान प्रबंधन कमेटी सदस्य फतेह सिंह जसोल, गुलाबसिंह डंडाली, एडवोकेट देवीसिंह कितपाला, संस्थान मैनेजर जेठूसिंह मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...