पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अभियान शुरू:मेरा गांव मेरी जिम्मेदारी अभियान के तहत शिक्षकों ने किया कोष गठित

धोरीमन्नाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय भीमथल के संस्था प्रधान ने मेरा गांव, मेरी जिम्मेदारी अभियान शुरू किया है। इसके तहत उन्होंने अपनी तनख्वाह से राशि देकर शिक्षकों की सहायता से एक फंड बनाया है। इससे वे घर घर जाकर बच्चों के स्वास्थ्य की देखभाल करने के साथ साथ अभिभावकों की आर्थिक मदद करेंगे। भीमथल स्कूल के प्रिंसिपल रूपसिंह जाखड़ ने पहल करते हुए यह अभियान शुरू की है।

जाखड़ ने बताया कि इसके तहत शिक्षकों ने अपनी तनख्वाह से धन जुटाया है। इन रुपयों से हेल्थ वर्कर्स व ग्रामीणों के सहयोग से विशेष किट तैयार किए है। यह किट डोर-टू-डोर सर्वे कर हर जरूरतमंद व्यक्ति तक पहुंचाई जा रही हैं ताकि भीमथल पंचायत समिति को कोरोना संक्रमण के खतरे से मुक्त किया जा सके। इस मुहिम में सर्वप्रथम भामाशाह के रूप में प्रधानाचार्य जाखड़ ने 5100 रुपए दिए व अन्य स्टाफ साथियों स्वास्थ्य कर्मियों सहित 11 हजार रुपए की राशि एकत्रित की है। व्याख्याता शंकरराम विश्नोई ने बताया कि गांव में सभी की थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है। सर्वे में कोई संदिग्ध मिलता है तो उसे विशेष वाहन से अस्पताल पहुंचाया जाएगा।

उनके इलाज और देखभाल की जिम्मेदारी भी शिक्षकों की टीम ही उठाएगी। बीमार व्यक्ति की गैर-मौजूदगी में उनके परिवार वालों के भोजन से लेकर राशन तक की व्यवस्था भी शिक्षक अपने खर्च पर करेंगे।भीमथल गांव के शिक्षकों की इस अनूठी मुहिम में शामिल नर्सिंग ऑफिसर रामलाल गोदारा ने बताया कि घर-घर सर्वे शुरू कर दिया गया है। इसके तहत छोटे बच्चों से लेकर उनके परिजनों की जांच की जा रही है। इनमें सर्दी, खांसी, जुकाम, बुखार होने पर उन्हें घर पर ही प्राथमिक उपचार दिया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...