पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

किसान जीत गए:किसानों को 21 लाख का ऋण लौटाया, व्यवस्थापक को हटाया व को ऑपरेटिव बैंक एमडी से चार्ज छीना

जैसलमेर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

आखिरकार हमारे किसान जीत गए, उनकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा। बैंक डायरी में ऋण उनके नाम से चल रहा था लेकिन उन्हें ऋण राशि नहीं मिली। बैंक व जीएसएस की मिलीभगत से किसानों की लाखाें रुपए की ऋण राशि पर कुछ लोग कुंडली मारकर बैठे थे। रबी सीजन में जब किसान ऋण लेने पहुंचे तो उन्हें उनके नाम से लिए गए खरीफ ऋण चुकाने के लिए कहा गया तो मामले का खुलासा हुआ। क्योंकि किसानों को खरीफ ऋण की राशि नहीं दी गई। भास्कर ने इन किसानों की पीड़ा को प्रमुखता से प्रकाशित किया।

लगातार दो दिन खबरें प्रकाशित की और किसानों ने भी बैंक के बाहर धरना प्रदर्शन किया। आखिरकार बुधवार को किसानों के साथ ऋण पर्यवेक्षक आसुसिंह, शाखा प्रबंधक सीताराम ने वार्ता की और किसानों की सभी मांगों को मान लिया। इस पर किसानों ने धरना उठाने का निर्णय लिया। इस अवसर पर नाचना प्रधान अर्जुनराम मेघवाल, भारेवाला जीएसएस अध्यक्ष गुलाम कादर, जीवन खां, फेज मोहम्मद, नसीर खां, शेख मोहम्मद आदि उपस्थित थे।

खरीफ ऋ ण लौटाने सहित कई मांगों पर बनी सहमति
>खरीफ ऋण लौटाना शुरू कर दिया। पहले दिन 21 लाख रुपए का ऋण बांटा।
>भारेवाला व पांचे का तला में कैम्प लगाया जाएगा और एक एक किसान से खरीफ ऋण की जानकारी ली जाएगी।
>समिति के सदस्यों की अमानत राशि की बैंक स्तर पर जांच करवाकर यह राशि भी दिलवाई जाएगी।
>जगदीश प्रजापत से भारेवाला व पांचे का तला का चार्ज छीन लिया गया। जसराज को भारेवाला का और स्वरूपचंद्र को पांचे का तला का चार्ज दिया गया।
>कोऑपरेटिव बैंक द्वारा जारी किया जाने वाला ऋण अब से किसानों के बचत खाते में सीधा जमा करवाया जाएगा न कि जीएसएस के खाते में।
>एमडी जगदीश सुथार से भी बैंक के प्रबंध निदेशक का चार्ज छीन लिया गया।

एमडी व व्यवस्थापक को हटाया
इस मामले का खुलासा होने पर एमडी जगदीश सुथार पर भी गाज गिरी। उन्हें कोऑपरेटिव बैंक के प्रबंध निदेशक का अतिरिक्त चार्ज दिया हुआ था जिसे छीन लिया गया। इस संबंध सहकारिता विभाग ने आदेश जारी कर उप रजिस्ट्रार सहकारी समितियां सुजानाराम को प्रबंध निदेशक का अतिरिक्त चार्ज दिया है। इसी सिलसिले में भारेवाला व पांचे का तला के व्यवस्थापक पद पर कार्यरत जगदीश प्रजापत को भी हटा दिया गया है। अब जगदीश केवल आकलवाला का व्यवस्थापक रहेगा।

पांचे का तला व भारेवाला के किसानों को 21 लाख रुपए का ऋण बांटा
किसानों के नाम से ऋण तो उठा लिया गया लेकिन उन तक नहीं पहुंचा। मामले की गंभीरता से जांच हुई और एक के बाद एक किसान ऐसे सामने आते रहे। सैकड़ों किसानों के साथ यह घोटाला किया गया। बुधवार को बैंक प्रबंधन ने किसानों को 21 लाख रुपए का ऋण लौटाया, यह वह राशि थी जो उनके नाम से खरीफ सीजन में पहले से ही जीएसएस ने उठा ली थी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कई प्रकार की गतिविधियां में व्यस्तता रहेगी। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने में समर्थ रहेंगे। तथा लोग आपकी योग्यता के कायल हो जाएंगे। कोई रुकी हुई पेमेंट...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser