पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना अपडेट:जिले में 452 नए पॉजिटिव व एक की मौत; कलेक्टर संक्रमित, 152 रोगी ठीक होकर लौटे, एक्टिव केस 4609

जैसलमेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो।

स्वर्णनगरी में कोरोना के आंकड़े लगातार बढ़ रहे हैं। हालांकि पॉजिटिव मरीज रोजाना रिकवर भी हो रहे हैं। लेकिन रिकवर होने की स्पीड बहुत स्लो है। जिसके चलते एक्टिव मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। कोरेाना की दूसरी लहर तेज होने के साथ घातक भी है। इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पिछले 15 दिनों में कोरोना का आंकड़ा सैकड़ों से हजारों तक में पहुंच गया है। वहीं अब तक कोरोना से 20 मौतें भी हो गई है।

गुरूवार को 1 हजार 406 कोरोना के सैंपल की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई। जिसके बाद जैसलमेर में अब तक 5348 मरीज पॉजिटिव आ चुके हैं। गुरूवार को आई पॉजिटिव रिपोर्ट में से 452 कोरोना पॉजिटिव व 954 की रिपोर्ट निगेटिव आई है। इसके साथ ही 452 पॉजिटिव केस में से जैसलमेर के ग्रामीण अंचलों में 145, सम क्षेत्र में 137, पोकरण ग्रामीण में 43, पोकरण शहर से 12 व जैसलमेर शहर के 115 पॉजिटिव मरीज सामने आए है।

इसके साथ ही गुरूवार को 152 मरीज रिकवर हुए। जिसके कारण अब तक 826 पॉजिटिव रिकवर हो गए है। वहीं गुरूवार को एक कोरोना पॉजिटिव की मौत भी हो गई है। जिसके बाद मौत का आंकड़ा 20 तक पहुंच गया है।

फतेहगढ़ एसडीएम ने की विवाह समारोह स्थगित करने की अपील
फतेहगढ़, कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर फतेहगढ़ एसडीएम दिनेश विश्नोई ने उपखंड क्षेत्र के लोगों से अपील की है कि विवाह आयोजनों को स्थगित कर दे। साथ ही इसके लिए अन्य लोगों को भी प्रेरित करें। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी को मद्देनजर रखते हुए आगमी दिनों में होने वाले विवाह समारोह को स्थगित कर दें। ताकि कोरोना संक्रमण की चैन ताेड़ी जा सके।

उन्होंंने कहा कि विवाह समारोह को स्थगित करने का निर्णय कोरोना संक्रमण की चैन तोड़ने में प्रशासन के लिए मददगार साबित होगा।

जवाहर अस्पताल के सभी 65 बेड फुल, अधिकांश कोरोना मरीज होम क्वारेंटाइन, गाइडलाइन की पालना नहीं
जैसलमेर के जवाहर अस्पताल में कोरोना के लिए 65 बेड है। जवाहर अस्पताल में फिलहाल 65 मरीज भी भर्ती है। ऐसे में जवाहर अस्पताल के सभी बेड फिलहाल पूरी तरह से भर गए है। अब गंभीर मरीजों को छोड़कर अन्य मरीजों को दूसरी जगह शिफ्ट किया जाएगा। ताकि गंभीर मरीजों को समय रहते बेहतर इलाज दिया जा सके।

गुरूवार को आई रिपोर्ट में जैसलमेर कलेक्टर आशीष मोदी की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। इस संबंध में उन्होंने खुद मैसेज करते हुए अपनी रिपोर्ट पॉजिटिव आने की बात कही। उन्होंने खुद को क्वारेंटाइन कर लिया है। इसके साथ ही उन्होंने अपने संपर्क में आए सभी लोगों को भी एहतियात बरतने के साथ ही कोरोना की जांच करवाते हुए खुद का ख्याल रखने की बात कही।

जैसलमेर में अधिकांश मरीज होम क्वारेंटाइन है। लेकिन प्रशासन द्वारा सख्ती नहीं बरतने के कारण मरीज बाहर निकल रहे हैं। जिससे कोरोना का संक्रमण फैलने का खतरा भी बढ़ गया है। प्रशासन द्वारा पॉजिटिव मरीजों को रोकने के लिए गलियों के रास्ते बंद किए गए है। लेकिन उन्हें भी तोड़कर हटा दिया गया है।

सख्ती; तहसीलदार ने 5 दुकानें को किया सीज, बेवजह घूमते 20 लोगों को किया क्वारेंटाइन

फतेहगढ़ एसडीएम दिनेश विश्नोई के निर्देशानुसार तहसीलदार अशोक कुमार ने फतेहगढ़ बाजार का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान कई दुकानें ऐसी खुली थी जहां पर कोरोना गाइड लाइन की पालना नहीं हो रही थी। जिस पर तहसीलदार ने 5 दुकानों को 17 मई तक सीज कर दिया। वहीं दो लोगों के चालान काटे गए।

तहसीलदार ने व्यापारियों को हिदायत दी कि रेड अलट पखवाड़े के दौरान सरकार की गाइड लाइन के अनुसार ही दुकानें खुले। अन्यथा संबंधित के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।सरकार द्वारा जारी गाइड लाइन के तहत सुबह 11 बजे के बाद बेवजह बाहर घूमने वालों पर सख्त कार्रवाई की जा रही है। जिसके तहत ही गुरूवार को पुलिस द्वारा 20 व्यक्तियों को संस्थागत क्वारेंटाइन सेंटर में भर्ती करवाया गया।

जिसमें पुलिस थाना नाचना द्वारा 4, सांकड़ा 4, खुहडी 3, रामदेवरा 3, शहर कोतवाली 2, लाठी 2, सम 1 व भणियाणा द्वारा 1 व्यक्ति को संस्थागत क्वारेंटाइन सेंटर में भर्ती करवाया गया। जिनकी निगेटिव रिपोर्ट आने के बाद ही छोड़ा जाएगा। कलेक्टर आशीष मोदी को जसवंतसिंह नरावत ने सूजासर गांव में 5 मई को एक साथ 9 कोरोना पॉजिटिव होने के बाद भी कोविड गाइड लाइन की पालना नहीं होने के बारे में अवगत करवाया। कलेक्टर ने इसे गंभीरता से लिया एवं सहायक निदेशक लोक सेवाएं अशोक कुमार को इस संबंध में उपखण्ड अधिकारी पोकरण से वस्तुस्थिति की जानकारी लेने के निर्देश दिए।

खबरें और भी हैं...