प्रवासी पक्षी:विदेशी पक्षी कुरजां के एक साथ मिले 9 शव, बर्ड फ्लू से मौत की आशंका

जैसलमेर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विदेशी पक्षी कुरजां के मिले शव। - Dainik Bhaskar
विदेशी पक्षी कुरजां के मिले शव।

क्षेत्र के डेलासर गांव के पास स्थित कोजेरी नाडी के आसपास के क्षेत्र में 9 से ज्यादा प्रवासी पक्षी कुरजां के शव मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। डेलासर गांव के पास कोजेरी नाडी के पास अलग-अलग बिखरे पड़े शवों को वन्य जीव प्रेमियों ने देखा तथा वन्य जीव प्रेमियों ने मृत मिले पक्षियों की जानकारी लाठी वनविभाग को दी। वन्य जीव प्रेमियों ने पक्षियों में बर्ड फ्लू या फूड पॉइजनिंग की आशंका जताई हैं। हालांकि वन विभाग की जांच के बाद ही विदेशी पक्षियों की मौत की वजह का खुलासा होगा।

जानकारी के अनुसार क्षेत्र के डेलासर गांव में गुरुवार की सुबह को वन्यजीव प्रेमी राधेश्याम विश्नोई सहित कुछ वन्यजीव प्रेमी पक्षियों को देखने के लिए निकले हुए थे। इस दौरान उन्हें डेलासर गांव के पास स्थित कोजेरी नाडी के आसपास के क्षेत्र में 9 से भी ज्यादा कुरजां पक्षियों के शव पड़े मिले।

एक साथ इतने पक्षियों के शव देखकर वे चौंक गए। उन्होंने इसकी सूचना लाठी वन विभाग को दी। सूचना मिलने पर लाठी वनविभाग से वनपाल सवाईसिंह भाटी, तगसिंह भाटी, हसन खा़, भंवरलाल विश्नोई‌ सहित वन विभाग के कार्मिक घटनास्थल पर पहुंचे। कोजेरी नाडी के आसपास के क्षेत्र में सर्च अभियान चलाया। इस दौरान कोजेरी नाडी व आसपास के क्षेत्र में नो प्रवासी पक्षी कुरजां के शव मिले। वन विभाग कर्मियों ने अलग-अलग स्थानों पर बिखरे हुईं शव को एकत्रित किया तथा अपने कब्जे में लेने के बाद जैसलमेर पशु चिकित्सालय ले जाकर उनका पोस्टमार्टम करवाया।

फुड पॉइजनिंग या बर्ड फ्लू से मौत की आशंका|वनपाल सवाईसिंह भाटी ने बताया कि संभवतया इनकी मौत खेत में यूरिया आदि खाने से हुई होगी। अगर ऐसा नहीं हैं तो फिर बर्ड फ्लू से भी मौत हो सकती हैं। उन्होंने वन विभाग को बता दिया हैं। अब जांच के बाद ही खुलासा होगा।

हजारों कुरजां का डेरा| लाठी क्षेत्र में प्रतिवर्ष हजारों प्रवासी पक्षी अपना डेरा जमाए रखते हैं। कुरजां के साथ कई विदेशी पक्षी क्षेत्र में विचरण करते नजर आते हैं। अगर इस क्षेत्र में बर्ड फ्लू की दस्तक होती हैं तो इन पक्षियों के लिए खतरा साबित सकता है।

खबरें और भी हैं...