9 दिनों से किसानों का महापड़ाव जारी:एडीएम के प्रयास लाए रंग, 1 मांग को छोड़ सभी पर बनी सहमति, महापड़ाव जल्द खत्म होने की उम्मीद

जैसलमेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
किसान महापड़ाव में पहुंचे एडीएम। - Dainik Bhaskar
किसान महापड़ाव में पहुंचे एडीएम।

अपनी समस्याओं को लेकर मोहनगढ़ कस्बे में महापड़ाव कर रहे किसानों का धरना जारी है। धरने के दौरान किसानों के उग्र आंदोलन की चेतावनी पर बुधवार को एडीएम हरि सिंह मीणा महापाड़ाव स्थल पहुंचे। एडीएम हरी सिंह मीणा के साथ नहर विभाग के एडिशनल चीफ हरित लाल मीणा, बिजली विभाग के एसई जेठा राम, मोहनगढ बिजली विभाग के जेईएन परिक्षित भी साथ रहे। उन्होंने किसानों के बीच पहुंचकर एक बार फिर उनको समझाने व धरना उठाने का आग्रह किया।

किसान महापड़ाव पर जमा किसान।
किसान महापड़ाव पर जमा किसान।

एक को छोड़कर लगभग सभी मांगों पर बनी सहमति

किसान नेता साभान खान ने बताया कि किसानों के बीच पहुंचे अतिरिक्त जिला कलेक्टर हरि सिंह मीणा व किसानों के बीच चली वार्ता में किसानों की एक मांग को छोड़कर बाकी सभी पर सहमति बन चुकी है। अंतिम मांग के लिए 8 अक्टूबर को बैंक व बीमा कम्पनी के साथ किसानों का तालमेल बनाने वाली कमेटी की बैठक होनी है। इस कमेटी में किसानों के पक्ष में नतीजे निकलते है तो किसान अपना आंदोलन समाप्त कर लेंगे नही तो आंदोलन जारी रहेगा।

इन मांगों पर ठोस आश्वासन के बाद बनी सहमति

  • बिजली विभाग का जीएसएस 31 अक्टूबर तक तैयार हो जाएगा।
  • एडीएम ने बीमा कम्पनी एचडीएफ़सी एग्रो के अधिकारी से फोन पर बात की जिसमें उन्होंने बताया कि किसानों का बाकी क्लेम 15 अक्टूबर तक जमा हो जाएगा।
  • नहर विभाग के अधिकारियों ने आश्वासन दिया कि 1254 से नीचे जैसलमेर जिले के शेयर का पानी आने पर ईमानदारी से पूरा पानी दिया जाएगा।
  • रेगुलेशन एडीशनल चीफ से फोन पर बात करके पूरा पानी देने की बात कही जिसमें चीफ ने पूरा पानी देने की बात कही।
  • कॉपरेटिव बैंक के एमडी से बात कर उन्हें 8 अक्टूबर को कमेटी की मीटिंग में किसानों की समस्या का हल निकालने के लिए पाबन्द किया।

साभान खान ने बताया कि एडीएम हरी सिंह मीणा सभी विभागों के अधिकारियों से बात कर किसानों को विश्वास दिलवाने में सफल रहे। 8 अक्टूबर को बैंक व बीमा कम्पनी की किसानों के साथ वार्ता है जिसके सफल परिणाम निकलने की उम्मीद है।

खबरें और भी हैं...