जैसलमेर में मौत से खेलता बचपन:रिफ्लेक्टर के लालच में हाईवोल्टेज लाइन से खेल रहे बच्चे; एसपी ने किया आगाह, हादसे से बचें नहीं तो होगी कार्रवाई

जैसलमेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जैसलमेर में हाई वोल्टेज लाइन से टकराने से होने वाले हादसों को देखते हुए एसपी डॉ. अजय सिंह ने आमजन से अपील करते हुए इन हाइटेंशन लाइन व उनके पोल से दूर रहने की सलाह दी है। दरअसल जिले में विभिन्न स्थानों व ग्रामीण इलाकों में आमजन को बिजली सप्लाई के साथ-साथ अन्य निजी बिजली कंपनियों के विंड व सोलर प्लांट के बिजली सप्लाई के पोल व हाइटेंशन लाइन चल रही है। इसके अलावा जिले में विंड मिल एवं सोलर प्लांट का कार्य भी लगातार जारी है। हालांकि इन पर खतरे के निशान बने हैं तथा दूर रहने के चेतावनी बोर्ड भी लगे हैं। लेकिन फिर भी करंट से मौतों के सिलसिले रुक नहीं रहे।

बिजली के पोल पर चढ़ते बच्चे
बिजली के पोल पर चढ़ते बच्चे

पक्षियों को दूर रखने के लिए लगाए गए हैं रिफ्लेक्टर/बर्ड डायवेटर
एसपी डॉ अजयसिंह ने जानकारी देते हुए बताया की ग्रामीण इलाकों में कई स्थानों पर पक्षियों के बिजली के तारों से टकराने से असामयिक मौतें हो जाती थी। जिसको लेकर कई कंपनियों ने इन तारों पर चमकते रिफ्लेक्टर/ बर्ड डायवेटर लगाए हैं। जिनकी चमक से पक्षी इन बिजली के तारों की तरफ नहीं आते हैं। लेकिन गांवों के किशोर व बच्चे खेलने के लिए कभी इन चमकती चीजों की तरफ आकर्षित होते हैं तथा इसको पाने के जतन में हादसे को अंजाम दे बैठते हैं।

हादसों में पशु व इंसान गंवा चुके हैं जान
एसपी ने बताया कि जिले में लगी बिजली कंपनियों तथा उनके द्वारा बिजली का उत्पादन होने के बाद सोलर व विंड फार्म से 33 केवी व 220 केवी की बिजली लाइनें सब स्टेशन से जुड़ी हुई है। उन लाइनों में हर समय बिजली प्रवाहित होती रही है, वह सभी डेंजर जोन में है। उन सब में चलने वाली हाईवोल्टेज लाइन बेहद खतरनाक है व जानलेवा भी साबित हो सकती है। उन हाईवोल्टेज लाइन, बिजली पोल व बिजली तारों से निर्धारित दूरी बनाए रखें व इनके साथ छेड़खानी व इन पर चढ़ना व लटकना जानलेवा साबित हो सकता है। जिले के कई थाना क्षेत्र में हाईवोल्टेज लाइन, बिजली पोल व बिजली तारों के आस-पास रहने वाले लोग, किशोरवस्था के बच्चे अपनी जान जोखिम में डालकर अंजाने में पोल पर लगे रिफ्लेक्टर/ बर्ड डायवेटर को खोलने, तारों पर झूलने व तार काटने की कोशिश करते है। जिससे गंभीर घटना घटित होती है। यह सभी बेहद खतरनाक है, ऐसी लापरवाही न करें।

दूर रहें नहीं तो होगी कार्रवाई
एसपी डॉ अजयसिंह ने आमजन से अपील करते हुए कहा है कि आपके गांव, कस्बा के नजदीक क्षेत्र में हाईवोल्टेज लाइन, बिजली के पोल व बिजली तार हो तो उनसे आप व आपके किशोर व बच्चों तथा अपने मवेशियों को दूर रखें। किशोर बच्चों को उनके नजदीक जाने से रोकने के लिए समझाइश करें ताकि कोई बड़ी घटना घटित ना हो। इससे पहले भी इन कारणों से जिले में दुर्घटनाएं घटित हुई है। इस प्रकार किसी भी व्यक्ति द्वारा बिना अनुमति के डेंजर जोन में प्रवेश करना भारतीय विद्युत अधिनियम के नियम व धाराओं का उल्लघंन करने का दोषी सिद्ध होगा। जिसके लिए व्यक्ति स्वयं अपनी जानमाल, सुरक्षा का जिम्मेदार होगा। इसके लिए कम्पनी व विभाग कि किसी भी प्रकार की जिम्मेदारी नहीं होगी।

खबरें और भी हैं...