हेरिटेज शहर की पतली गलियों में दौड़ेगी छोटी फायर ब्रिगेड:सोनार किले में कचरे के ढेर में लगी आग से मची अफरा-तफरी, लोगों ने बुझाई, अब दीवाली से पहले नगरपरिषद करेगी आग से बचने के उपाय

जैसलमेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सोनार किले में आग - Dainik Bhaskar
सोनार किले में आग

सोनार दुर्ग के एक बुर्ज से मंगलवार रात अचानक धुएं के साथ आग की लपटें देखकर पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। बड़ी संख्या में लोग वहां जमा होने लगे। फायर ब्रिगेड की पतली गलियों में एंट्री नहीं हो पाने के कारण लोगों में दहशत है। अगर कोई बड़ी आग लग जाए तो उसको कैसे रोक पाएंगे। इसी उलझन और भय में उन्होंने नगरपरिषद से फायर ब्रिगेड की छोटी गाड़ी की मांग की है। नगरपरिषद ने छोटी गाड़ियों का ऑर्डर भी दे दिया है और दीपावली से पहले शहर को आग से बचाने के लिए नगरपरिषद ने भी कमर कस ली है।

सोनार किले में कचरे में लगी आग ने फैलाई दहशत
सोनार किले में कचरे में लगी आग ने फैलाई दहशत

जैसलमेर के सोनार दुर्ग में मंगलवार रात अचानक आग लगने से हड़कंप मच गया। दुर्ग के बुर्ज से अचानक आग की लपटें उठने लगीं। यह देखकर बड़ी संख्या में स्थानीय लोग वहां जमा हो गए और आग पर काबू पाने की कोशिश करने लगे। काफी मशक्कतों के बाद आखिरकार आग पर काबू पा लिया गया।

सोनार दुर्ग के एक बुर्ज से अचानक धुएं के साथ आग की लपटें देखकर पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। बताया जाता है कि बुर्ज में बिखरे कचरे के ढेर में आग लगी और आग की लपटें तेजी से उठने लगीं। आग की खबर फैलते ही बड़ी संख्या में स्थानीय लोग वहां इकट्ठा हो गए और आग पर काबू पाने की कोशिश करने लगे। हालांकि आग की सूचना दमकल विभाग को भी दी गई, लेकिन दुर्ग की छोटी और संकरी गलियों की वजह से दमकल की गाड़ियां वहां तक नहीं पहुंच पाती हैं। वहीं दमकल विभाग के पास आग बुझाने के लिए छोटा वाहन नहीं है जो दुर्ग की संकरी गलियों से गुजर सके। स्थानीय लोगों के प्रयास से आग पर काबू पाया जा सका। गनीमत रही कि कोई बड़ा हादसा नहीं हुआ हालांकि एक बार फिर से दुर्ग की गलियों में फायर ब्रिगेड की जरूरत महसूस हुई। प्रशासन के पास दमकल की छोटी गाड़ियां होतीं तो आग पर आसानी से काबू पाया जा सकता था।

किलेवासियों ने नगरपरिषद से की अपील

मंगलवार रात की आग की घटना से दहशत में आए सोनार किले के वासियों ने नगर परिषद सभापति हरीवल्लभ कला से फायर ब्रिगेड की छोटी गाड़ियां मंगवाने की आवश्यकता के लिए जोर दिया। उन्होंने कहा कि दीपावली आने वाली है और अगर कोई बड़ा हादसा होता है तो उससे निजात कैसे पाएंगे। जब तक छोटी गाड़ियां नहीं आएंगी तब तक संकरी गलियों में आग बुझाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ेगी और बड़ा हादसा भी हो सकता है।

नगर परिषद सभापति हरीवल्लभ कल्ला ने बताया कि हमने पहले से ही फायर ब्रिगेड की छोटी गाड़ी व एयरलिफ्ट आदि के लिए ऑर्डर कर दिया है। बहुत जल्द ही जैसलमेर में दीपावली से पहले यह गाड़ी आ जाएगी ताकि संकरी गलियों में या फिर सोनार किले में आग लगने पर इनका उपयोग कर सके और आग पर काबू पाया जा सके।

खबरें और भी हैं...