प्रशासन गांवों के संग शिविर:चार पंचायतों में 95 पट्टों का वितरण, 72 नामांतरण खोले

जैसलमेर20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

प्रशासन गांवों के संग अभियान के अंतर्गत आयोजित शिविरों में ग्रामीणों के कामों का संपादन होने के साथ ही लंबित समस्याओं का निस्तारण और विभिन्न योजनाओं व कार्यक्रमों से ग्रामीणों को लाभांवित किया जा रहा है। कलेक्टर आशीष मोदी ने बताया कि बुधवार को जिले में चार ग्राम पंचायत मुख्यालयों खुहड़ी, मोढ़ा, पन्नासर एवं शास्त्रीनगर में आयोजित हुए प्रशासन गांवों के संग अभियान के दौरान विभिन्न प्रकार के कुल 95 आवासीय पट्टे जारी किए गए।

उन्होंने बताया कि इसके साथ ही ग्रामीण विकास विभाग द्वारा 37 महानरेगा के तहत जॉबकार्ड जारी किए गए। वहीं 199 जॉब कार्ड का सत्यापन किया गया। इसके साथ ही 55 श्रमिकों के खातों का अपडेशन किया गया। इसी प्रकार 33 जन्म मृत्यु प्रमाण पत्र जारी किए गए। इसके साथ ही 592 शौचालय विहीन परिवारों के शौचालय के लिए चिह्निकरण किया गया। उन्होंने बताया कि अभियान के दौरान राजस्व विभाग के द्वारा 72 नामांतरकरण खोले जाकर खातेदारों को बहुत बड़ी राहत दी गई। वहीं 41 खातों में शुद्धिकरण किया गया। इसके साथ ही आपसी सहमति के 10 प्रकरणों में बंटवारा कर किसानों को तोहफा दिया गया। इसके साथ ही 240 जाति मूल निवास प्रमाण पत्र शिविर में खोले जाकर लोगों को राहत दी गई।

जलदाय विभाग द्वारा 44 प्रकरणों का निस्तारण किया गया तथा 7 प्रकरणों में पाइप लाइन लीकेज ठीक की गई। पानी की गुणवत्ता जांच में 27 तथा 10 हैण्डपंप की मरम्मत संबंधी प्रकरणों का निस्तारण किया गया। कृषि विभाग द्वारा 51 किसानों के यहां मृदा नमूनों का संग्रहण किया गया। वहीं 53 मृदा स्वास्थ्य कार्ड जारी कर किसानों को उपलब्ध कराए गए। विद्युत विभाग द्वारा विद्युत सप्लाई व्यवधान के 2 प्रकरण, त्रुटिपूर्ण मीटर के 2 प्रकरण निस्तारित किए गए। वहीं 2 ढीले तारों को सही किया गया। उन्होंने बताया कि सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा मुख्यमंत्री वृद्धजन सम्मान पेंशन योजना के तहत 28 आवेदन पत्र प्राप्त हुए जिसमें से 22 की पेंशन स्वीकृति जारी की गई। इसी प्रकार चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा 316 पुरुष एवं 123 महिलाओं के स्वास्थ्य की जांच की जाकर उनका उपचार किया गया।

वहीं 15 लोगों का कोविड का टीकाकरण किया गया। पशुपालन विभाग द्वारा कैंप लगाया जाकर 354 बड़े व 38 छोटे पशुओं का उपचार किया गया तथा 25 नकारा सांडों का वधीयाकरण किया गया। इसके साथ ही 3 हजार 600 पशुओं को कृमिनाशक दवा पिलाई गई व 25 पशुपालकों के पशुपालक किसान क्रेडिट कार्ड के आवेदन पत्र तैयार करवाए गए। रोडवेज विभाग द्वारा 10 पात्र विशेष योग्यजन को रोजवेज के पास जारी किए गए। वहीं 9 अन्य पात्रजन के रोडवेज पास के आवेदन पत्र तैयार करवाए गए। सहकारिता विभाग द्वारा पेक्सध्लेम्पस में 10 नए सदस्य बनाए गए वहीं पीएम किसान सम्मान निधि के 40 लाभार्थियों का सत्यापन किया गया। इसके साथ ही नई ग्राम सेवा सहकारी समिति के गठन के लिए 14 सदस्य बनाए गए।

खबरें और भी हैं...