दिवाली मेंटेनेस के नाम पर बिजली कटौती:पहले कोयले का संकट और अब दीवाली मेंटेनेस के नाम पर बिजली की कटौती; रोजाना 3 घंटे हो रही शहरी इलाकों में कटौती

जैसलमेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्कम फोटो। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्कम फोटो।

जैसलमेर में बिजली कटौती के नाम पर तीन से चार घंटे अलग-अलग इलाकों की बिजली काटी जा रही है जिससे लोग खासे परेशान हैं। दरअसल पिछले दिनों प्रदेश में कोयले की कमी का कारण बताते हुए ग्रामीण इलाकों व शहरी इलाकों में बिजली की कटौती की गई। वही अब दीवाली त्यौहार के मेंटेनेंस के नाम पर बिजली कटौती की जा रही है। गुरुवार को अल सवेरे से शहर के कई इलाकों की बिजली गुल है। कई इलाकों में दिवाली मेंटेनेंस के नाम पर बिजली की कटौती की जा रही है। डिस्कोम् की मेंटेनेस के नाम पर की जा रही 3 घंटे की कटौती से लोगों के काम अटक रहे हैं। स्कूल जाने वाले बच्चे भी परेशान हो रहे हैं। दीपावली मेंटेनेस के चलते कटौती-

डिस्कॉम जेईएन ने जानकारी देते हुए बताया कि दिवाली मेंटेनेंस के कार्य के लिए 33/11 केवी जीएसएस जवाहर हॉस्पिटल से निकलने वाले 11 केवी फीडर पर मेंटेनेंस का काम किया जा रहा है। जिसको देखते हुए गीता आश्रम, पुराना बस स्टैंड, कलाकार कॉलोनी, चैनपुरा, मैनपुरा,मलका प्रोल रोड, अंबेडकर कॉलोनी, रमेश टॉकीज,केला पाड़ा व पटवा हवेली के आसपास के इलाके आदि में बिजली 3 घंटे के लिए बंद रहेगी। गुरुवार सुबह 7:30 से लेकर सुबह 10:30 बजे तक दिवाली मेंटेनेंस का कार्य होगा जिसके तहत इन इलाकों की बिजली गुल रहेगी।

लोगों को परेशानी

दरअसल बुधवार को भी शहर के बाकी इलाकों की बिजली दीवाली मेंटेनेस की नाम पर की गई थी। सुबह सुबह हो रही बिजली कटौती से सबसे ज्यादा परेशान ग्रहणिया हो रही है। जमना पुरोहित कहती है की सुबह सुबह बच्चे स्कूल जाते हैं। उनको तैयार करना, टिफिन बनाना ये सब बिना लाइट के कैसे करें। कभी कभी पानी की टंकी में पानी खत्म हो जाए तो बिना मोटर पानी भी चढ़ाना भारी है। ऐसे में बिना लाइट के बहुत परेशानी होती है।

खबरें और भी हैं...