पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

असंतोष:पेट्रोल-डीजल व गैस की बढ़ती कीमतों के विरोध में महिला कांग्रेस ने विरोध जताते हुए किया प्रदर्शन

जैसलमेर25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

पेट्रोल डीजल व रसोई गैस की लगातार बढ़ती कीमतों पर केंद्र सरकार के विरोध में महिला कांग्रेस के साथ युवा व वरिष्ठ कांग्रेसजन द्वारा प्रदर्शन किया गया। विधानसभा क्षेत्र जैसलमेर में हनुमान चौराहा पर पूर्व जिला प्रमुख अंजना मेघवाल के नेतृत्व में मनोज कंवर कंसारिया, अरूणा देवड़ा, फिरदोस व दाखा देवी सहित महिला कार्यकर्ताओं ने केन्द्र की नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी कर प्रदर्शन किया। इस दौरान पूर्व उप जिला प्रमुख उम्मेदसिंह नरावत, पूर्व प्रधान अमरदीन फकीर, पूर्व यूआईटी अध्यक्ष उम्मेदसिंह तंवर, राणसिंह चौधरी, राधेश्याम कल्ला, बृजरतन छंगाणी, राजकुमार भाटिया, धर्मेंन्द्र आचार्य, देवेंद्र परिहार, रूपचंद सोनी, आनंदसिंह देवड़ा, सेवादल के खटन खान, अशोक बारूपाल व मठार खान सहित अन्य कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी की। अंजना मेघवाल ने बताया कि भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस एवं राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देशानुसार महंगाई के विरुद्ध जुलाई माह में लगातार विरोध प्रदर्शन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि गुरुवार से जिला मुख्यालय के पेट्रोल पंपों पर हस्ताक्षर अभियान चलाया जाएगा। उसके बाद 15 जुलाई को विरोध प्रदर्शन जिला स्तर पर किया जाएगा। जिसमें क्षेत्र के विधायक व पार्टी पदाधिकारी साइकिल एवं मोटर साइकिल रैली निकालकर महंगाई के विरुद्ध अपना प्रदर्शन करेंगे। जिसकी तैयारी जिला स्तर पर की जा चुकी है।

बढ़ रही महंगाई को लेकर भीम आर्मी ने किया प्रदर्शन

जिले में पिछले दिनों दलितों पर बढ़ रहे अत्याचारों को लेकर भीम आर्मी ने बुधवार को जिलाध्यक्ष हरीश इणखिया के नेतृत्व में कलेक्ट्रेट के बाहर विरोध प्रदर्शन किया। प्रतिनिधि मंडल ने एडीएम से मिलकर ज्ञापन सौंपा। लगातार बढ़ रही महंगाई को लेकर भीम आर्मी ने प्रदेश भर में प्रदर्शन कर ज्ञापन सौपने के चलते बुधवार को जैसलमेर में भी भीम आर्मी कार्यकर्ताओं द्वारा विरोध प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री के नाम एडीएम को ज्ञापन दिया गया। ज्ञापन में बताया कि पेट्रोल डीजल के वैट में बढ़ोतरी करने से आमजन का बजट पूरी तरह से गड़बड़ा गया है। पेट्रोल डीजल का रेट बढ़ने से खाद्य पदार्थ, निर्माण सामग्री व सब्जियों के भाव लगातार बढ़ रहे है। जिसका सीधा असर आमजन की जेब पर पड़ रहा है। डीजल के रेट बढ़ने से किसानों को भी खासी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इसके साथ ही प्रदेश में इन दिनों महिलाओं व दलितों पर लगातार अत्याचार बढ़ रहे है। लेकिन इसके सामने सरकार कुछ भी नहीं कर पा रही है। ज्ञापन में बताया कि दुष्कर्म की घटनाओं में राजस्थान का देश में पहला स्थान शर्मनाक है। इस दौरान जिलाध्यक्ष हरीश इणखिया, डूंगर जयपाल, मोहित, खेताराम, राजेश, दिलीप कुमार, कपिल, सुमित, इंद्रजीत, किशन, लेखराज, सुनील, प्रकाश व भैराराम सहित कई कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...