ज्ञापन सौंपा:उर्दू छात्रों के साथ किए जा रहे भेदभाव को लेकर सौंपा ज्ञापन

बडोड़ागांवएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राजस्थान अधिकारी कर्मचारी माइनॉरिटी एसोसिएशन (रकमा) के जिला प्रभारी चनेसर खान चानिया के नेतृत्व में निदेशक प्रारंभिक शिक्षा के नाम जिला शिक्षा अधिकारी मुख्यालय प्रारंभिक को ज्ञापन देकर उर्दू छात्रों के साथ किए जा रहे भेदभाव से अवगत कराया। ज्ञापन में बताया कि कुछ लोगों की सोची समझी साजिश के तहत उर्दू भाषा बच्चों के उर्दू शिक्षण से वंचित रखने के लिए उनकी तृतीय लैंग्वेज मैपिंग सही नहीं किया गया। तीनों ब्लॉकों के कई विद्यालयों की पुनः मैपिंग करने तथा जांच कराने की मांग की गई है।

ज्ञापन में बताया कि प्रधानाध्यापक पद पर भी उर्दू के वरिष्ठ अध्यापक पद सृजित करने में गड़बड़ी हुई है। जिले के कई ऐसे विद्यालय हैं जहां 100 प्रतिशत उर्दू भाषी बच्चे हैं वहां पर उर्दू का प्रधानाध्यापक पद होना चाहिए था। लेकिन इसमें भी नियमों की अनदेखी हुई है। ज्ञापन देते समय चनेसर खान चानिया, चांद मोहम्मद, मनहर खान, मुख्तियार अली, अमजद खान, यूनुस खान, सिकंदर खान, मतलब खान, सिद्दीक खान सहित कई उर्दू शिक्षक उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...