राशि परिवर्तन:बुध की वक्री चाल मौसम की स्थिति कभी बेहतर तो कभी होगी खराब

जैसलमेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

गुरु और शनि के बाद अब बुध ग्रह इस साल तीसरी बार वक्री हो गए हैं। यह वक्री गति से चलते हुए 2 अक्टूबर रात 2:45 बजे उच्च राशि कन्या में प्रवेश कर जाएंगे। कन्या राशि पर ही गोचर करते हुए बुध 18 अक्टूबर को रात्रि में मार्गी होंगे और 2 नवंबर को फिर से तुला राशि में गोचर करेंगे। मार्गी अवस्था में गोचर करते हुए यह 21 नवंबर को वृश्चिक राशि में प्रवेश कर जाएंगे। इनके राशि परिवर्तन का सभी राशियों पर प्रभाव पड़ेगा। बुध 18 अक्टूबर की शाम 8:46 बजे तक वक्री चाल से चलेंगे।

खबरें और भी हैं...