ओपन शतरंज प्रतियोगिता:जिले के खिलाड़ियों की प्रतिभा को तराशने में खेल संघों की महत्वपूर्ण भूमिका:धनदे

जैसलमेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुरस्कार वितरण समारोह में विजेताओं को सम्मानित करते अतिथि। - Dainik Bhaskar
पुरस्कार वितरण समारोह में विजेताओं को सम्मानित करते अतिथि।

जिला शतरंज संघ जैसलमेर के तत्वावधान में डॉ. पुरुषोत्तम छंगाणी स्मृति जिला स्तरीय ओपन शतरंज प्रतियोगिता 2021 का पुरस्कार वितरण एवं सम्मान समारोह विधायक रुपाराम धणदे के मुख्य आतिथ्य में स्थानीय गीता आश्रम में संपन्न हुआ। इस कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि के रुप में नगर परिषद सभापति हरिवल्लभ कल्ला व भाजपा जिलाध्यक्ष चंद्रप्रकाश शारदा उपस्थित रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता कांग्रेस जिलाध्यक्ष उम्मेदसिंह तंवर ने की। कार्यक्रम का प्रतिवेदन जिला शतरंज संघ के अध्यक्ष देवकृष्ण पंवार द्वारा प्रस्तुत किया गया।

उन्होंने जिले में युवाओं की इस खेल में भागीदारी को देखते हुए शतरंज संघ के लिए भूमि आवंटन एवं हॉल निर्माण के लिए सभापति नगर परिषद एवं विधायक से सहयोग की मांग की। स्व. डॉ. छंगाणी के जीवन वृत पर प्रकाश डालते हुए असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. ममता शर्मा ने उनके शैक्षणिक, साहित्यक एवं शोध पर विस्तार से चर्चा कर युवा शक्ति को उनका अनुसरण कर जिले का नाम गौरवांवित करने के लिए प्रेरित किया।

शतरंज संघ के अध्यक्ष द्वारा नगरपरिषद जैसलमेर द्वारा भूमि आवंटन की मांग पर सभापति कल्ला ने आगामी बैठक में इस पर निर्णय का विश्वास दिलाया एवं विधायक धणदे ने बजट आवंटन कर हॉल निर्माण का सहयोग देने का विश्वास दिलाया। इस अवसर पर विधायक धणदे ने जिले के प्रतिभाशाली खिलाड़ियों की प्रतिभा को तराशने में खेल संघों की भूमिका बताई।

उन्होंने बॉस्केटबॉल का उदाहरण देते हुए बताया कि आज जिले के कई प्रतिभावान खिलाड़ी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर राष्ट्र का नेतृत्व कर जिले का नाम रोशन कर रहे है। सभापति कल्ला ने कहा कि इस प्रतियोगिता में 60 से अधिक खिलाड़ियों की भागीदारी यह दर्शाता है कि जैसलमेर में भी इस खेल के प्रति जो उत्साह है। आने वाले समय में इसका सुखद परिणाम हमें मिलेगा तथा कई प्रतिभाएं राज्य और राष्ट्र स्तर पर सम्मानित होगी। इस अवसर पर भाजपा जिलाध्यक्ष शारदा व कांग्रेस जिलाध्यक्ष तंवर ने संबोधित कर खिलाड़ियों का हौंसला बढ़ाया।

इस प्रतियोगिता में ओपन वर्ग में प्रेमसिंह भाटी ने प्रथम, सुशील भाटिया ने द्वितीय, जीवणसिंह ने तृतीय, ओमप्रकाश भाटिया ने चतुर्थ तथा देवकृष्ण पंवार पांचवे स्थान पर रहे। जूनियर पुरुष वर्ग में इन्द्रजीत प्रथम, अविनाश गेंवा द्वितीय तथा नमन कुमार तृतीय स्थान पर रहे। बालिका वर्ग प्रथम स्थान पर भावना एवं द्वितीय स्थान पर करुणा जोधा रही। सभी विजेताओं को ट्रॉफी, पुरस्कार, स्मृति चिन्ह व प्रमाण पत्र अतिथियों द्वारा प्रदान किए गए। इसके साथ ही 60 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के सभी खिलाड़ियों को विशेष पुरस्कार प्रदान किए गए। कार्यक्रम में प्रतियोगिता के संबंध में प्रचार प्रसार के लिए गौतम व्यास, गीता आश्रम संस्थान द्वारा प्रतियोगिता के लिए भवन उपलब्ध करवाने व सहयोग देने पर राजेन्द्र व्यास भोपत, डॉ. ममता शर्मा, बराईदीन एवं जिले के वरिष्ठतम शतरंज खिलाडी रमणलाल मेहता को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।

खबरें और भी हैं...