पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

ये कैसा सम्मान:57 अंक वाले शिक्षक का राज्य स्तर और 58.5 वाले का ब्लॉक स्तर पर सम्मान

जैसलमेर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • माध्यमिक शिक्षा निदेशक बीकानेर से जारी सूची में लापरवाही उजागर

शिक्षा विभाग द्वारा शिक्षक दिवस पर सम्मानित किए गए शिक्षकों के चयन में बड़ी लापरवाही सामने आई है। शिक्षा विभाग द्वारा इस बार शिक्षकों से ही सम्मान के लिए ऑनलाइन आवेदन लिए गए थे। इसके तहत शिक्षकों को राज्य, जिला व ब्लॉक लेवल पर सम्मानित किया गया है। इसके लिए माध्यमिक शिक्षा निदेशालय से अंतिम सूची जारी की गई है। इसमें कई गड़बड़ियं शामिल है। इस बार शिक्षकों के सम्मान के लिए उनके आवेदन पर ब्लॉक, जिला व राज्य स्तर पर आंकलन के लिए 100 में से नंबर दिए गए। लेकिन ज्यादा नंबर वाले शिक्षकों को तो ब्लॉक स्तर पर सम्मानित कर दिया।

जबकि जिनके नंबर कम है उन्हें राज्य स्तर पर पुरस्कृत किया गया है। इससे शिक्षकों में भी रोष हो गया है। शिक्षा विभाग की इस चूक से शिक्षकों को जहां उचित सम्मान नहीं मिला है। वहीं उन्हें सम्मानित राशि से आर्थिक नुकसान भी हुआ है। हर साल यह सम्मान समारोह 5 सितंबर को शिक्षक दिवस पर आयोजित किया जाता है। लेकिन इस बार पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निधन के चलते सम्मान समारोह को स्थगित कर दिया गया। अब यह कार्यक्रम 15 अक्टूबर को आयोजित किया गया। जिसमें जिले के 10 शिक्षकों को ब्लॉक, जिला व राज्य स्तर पर पुरस्कृत किया गया।

इन उदाहरणों से समझिए अधिक अंकों के बावजूद चयन में गड़बड़ी

6-8 कक्षा : राउप्रावि छोड़ के लेवल 2 के शिक्षक भूर सिंह को कक्षा 6-8 की कैटेगरी में 57 अंक मिले है और उन्हें राज्य स्तर पर पुरस्कृत किया गया है। लेकिन इसी कैटेगरी राबाउप्रावि रि दवा के प्रधानाध्यापक दीनाराम को 58.5 अंक मिले। जबकि उन्हें ब्लॉक स्तर पर सम्मानित किया गया है। वहीं इसी कैटेगरी में राउप्रावि साधना के लेवल 2 के शिक्षक द्वारकादास को 14 अंक ही मिले है जिन्हें जिला स्तर पर सम्मानित किया गया है।

9-12 कक्षा : राउमावि रीवडी के सेकंड ग्रेड के शिक्षक पुरुषोत्तम को 69.5 अंक मिले और उन्हें जिला स्तर पर सम्मानित किया गया। जबकि राउमावि लवां के सेकंड ग्रेड शिक्षक तोलाराम पालीवाल को 72 व राउमावि किशनघाट के व्याख्याता तनेसिंह सोढ़ा को 71.25 अंक मिले जिन्हें ब्लॉक स्तर पर ही सम्मानित किया गया।

विभाग ने शिक्षकों के चयन के ये तय किए थे मापदंड

ब्लॉक, जिला एवं राज्य स्तर पर श्रेष्ठ शिक्षकों के चयन के लिए उनके स्वयं के शैक्षिक रिकॉर्ड, परीक्षा परिणाम, उनकी ओर से विद्यालय के भौतिक विकास में किए गए योगदान, वार्ता प्रकाशन, राष्ट्रीय कार्यक्रमों में योगदान, उनके वार्षिक कार्य मूल्यांकन प्रतिवेदन को लेकर अंकों का प्रावधान किया गया था। इनमें सर्वाधिक 60 अंक गत 5 वर्षों के 100 प्रतिशत परीक्षा के रखे गए थे। 5 अंक खुद के शैक्षिक रिकॉर्ड, 10 अंक जनसहयोग तथा 10 अंक ग्राउंड असेसमेंट के रखे गए थे।

3 कैटेगरी में हुआ चयन | सम्मान के लिए प्राथमिक वर्ग, उच्च प्राथमिक वर्ग तथा कक्षा 9 से 12 माध्यमिक-उच्च माध्यमिक वर्ग के शिक्षकों के लिए अलग अलग चयन किया गया। इस प्रकार प्रत्येक ब्लॉक से तीन-तीन शिक्षक, जिला स्तर पर तीन तथा प्रदेश स्तर पर प्रत्येक जिले के तीन शिक्षकों का सम्मान किया गया है। ब्लॉक स्तर पर पुरस्कृत होने वाले शिक्षक को 5100 रुपए व प्रमाण-पत्र, जिला स्तर पर पुरस्कृत होने वाले शिक्षक को 11000 रुपए व प्रमाण-पत्र तथा राज्य स्तर पर पुरस्कृत होने वाले शिक्षक को 21 हजार रुपए व प्रमाण पत्र देकर सम्मान किया गया है।

इस बार शिक्षक सम्मान के लिए ऑनलाइन आवेदन मांगे गए थे। जो आवेदन प्राप्त हुए थे। उन्हें बीकानेर फॉरवर्ड कर दिया गया था। उसके बाद बीकानेर निदेशालय से ही चयनित शिक्षकों की सूची प्राप्त हुई जिसके आधार पर ही शिक्षकों को ब्लॉक, जिला व राज्य स्तर पर सम्मानित कर दिया गया।
नवल किशोर गोयल, मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपनी दिनचर्या को संतुलित तथा व्यवस्थित बनाकर रखें, जिससे अधिकतर काम समय पर पूरे होते जाएंगे। विद्यार्थियों तथा युवाओं को इंटरव्यू व करियर संबंधी परीक्षा में सफलता की पूरी संभावना है। इसलिए...

और पढ़ें