अभियोग निराकरण:तरक्की के लिए बच्चों की तालीम पर ध्यान देने की सीख दी

जैसलमेर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अल्पसंख्यक मामलात, वक्फ एवं जन अभियोग निराकरण मंत्री शाले मोहम्मद ने रविवार शाम जैसलमेर जिले के पोकरण विधानसभा क्षेत्र अन्तर्गत ग्राम शेरपुरा ऊजलां में मदरसा मेहमूदिया तजवीदुल कुरआन उच्च प्राथमिक का शिलान्यास किया। इस पर 25 लाख रुपए की लागत आएगी। इसके साथ ही उन्होंने क्षेत्र के दो अन्य गांवों में बनने जा रहे मदरसों का भी शिलान्यास करते हुए पट्टिकाओं का अनावरण किया। अल्पसंख्यक मामलात मंत्री शाले मोहम्मद ने कहा कि राजस्थान में अल्पसंख्यक वर्ग सहित तमाम पिछड़े और जरूरतमंद लोगों के कल्याण के लिए सरकार पूरे मन से प्रयासरत है और इस दिशा में कई सारे कार्यक्रमों और योजनाओं के माध्यम से बहुद्देशीय विकास के साथ सभी को आर्थिक एवं सामाजिक तरक्की की मुख्य धारा में लाए जाने के लिए अथक प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने समाज के पिछड़ेपन को दूर करने आर्थिक विकास तथा हर क्षेत्र में खुशहाली के लिए तालीम को सर्वोपरि बताया। उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यक वर्ग के अधिक से अधिक विद्यार्थियों को उच्चतम शिक्षा दिलाने के लिए मदरसों के विकास से लेकर छात्रावासों की सुविधा मुहैया कराने, अल्पसंख्यक वर्ग के लिए छात्रवृत्तियों, स्वरोजगार व आत्मनिर्भरता विकास के लिए कौशल प्रशिक्षणों की सुविधा आदि मुहैया कराने के लिए योजनाबद्ध प्रयास जारी है। अल्पसंख्यक मामलात मंत्री ने इस अवसर पर आह्वान किया कि इन योजनाओं का लाभ लेकर इलाके की तस्वीर संवारें, अपनी तकदीर बदलें और आंचलिक खुशहाली का परचम लहराएं। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में राजस्थान में अल्पसंख्यक कल्याण के क्षेत्र में कई नवीन आयाम स्थापित किए जाएंगे। आरंभ में अल्पसंख्यक विभाग के सहायक निदेशक सुरेन्द्र शर्मा व जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी शहजाद अहमद ने अल्पसंख्यक मामलात मंत्री का स्वागत करते हुए विभागीय गतिविधियों के बारे में जानकारी दी। समारोह का संचालन मोहम्मद इकबाल ने किया।

खबरें और भी हैं...