पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मानसून:जैसलमेर में इस बार सामान्य से 106% ज्यादा बारिश

जैसलमेर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • औसत से ज्यादा बारिश में प्रदेश में जैसलमेर पहले स्थान पर।
  • 22 से 25 जुलाई के बीच तेज बारिश की संभावना।
  • जैसलमेर में सामान्यत बारिश का आंकड़ा 63.4 एमएम।

इस बार जमाना अच्छा है। आम तौर पर कम बारिश व शुष्क व सूखे जिले के लिए जाना जाने वाला जैसलमेर इस बार अच्छी बारिश के लिए चर्चा में है। मौसम विभाग के आंकड़ों के मुताबिक इस बार अब तक सामान्य से 106 प्रतिशत अधिक बारिश हो चुकी है। जून माह की बात करें तो उसमें 130 प्रतिशत बारिश अधिक हुई थी।

अब तक सामान्य बारिश 63.4 मिमी रहती है और इस बार 130.4 मिमी बारिश हो चुकी है। सबसे कम औसम बारिश वाले जैसलमेर में इस बार मानसून मेहरबान है। प्री मानसून की भी अच्छी बारिश हुई और मानसून की शुरूआत भी शानदार रही। इतना ही नहीं आगामी दिनों में भी अच्छी व तेज बारिश की संभावना बनी हुई है।

प्रदेश में 29 जिलों में सामान्य से कम बारिश
पूरे प्रदेश में इस बार सामान्य से कम ही बारिश हुई है। 33 जिलों में से 29 जिलों में सामान्य से कम बारिश हुई है और चार में अधिक। ये चार जिले सवाई माधोपुर 3 प्रतिशत ज्यादा, बीकानेर एक प्रतिशत ज्यादा, चूरू 7 प्रतिशत ज्यादा और जैसलमेर सर्वाधिक 106 प्रतिशत ज्यादा के चलते सबसे आगे है।

जैसलमेर में 22 से 25 जुलाई तक अच्छी बारिश
मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार इस बार मानसून की अच्छी बारिश यहां हो रही है। पिछले दिनों भी जमकर बादल बरसे थे वहीं उसके बाद हवाएं चलने से बारिश का दौर थम गया। जानकारी के अनुसार आगामी 22 से 25 जुलाई के बीच में एक बार फिर मानसून जैसलमेर इलाके में सक्रिय रहेगा और अच्छी व तेज बारिश होगी।

राजस्थान में अभी तक औसत से माइनस 25 प्रतिशत वर्षा
बात पूरे राजस्थान की करें तो अभी तक सामान्य से बारिश कम हुई है। राज्य में अब तक 144.8 मिमी बारिश होनी थी जबकि 108.4 मिमी औसत बारिश ही हुई है। इस तरह औसम से माइनस 25 प्रतिशत बारिश दर्ज की गई है। इसी तरह पूर्वी राजस्थान में सामान्य से माइनस 37 प्रतिशत और पश्चिमी राजस्थान में सामान्य से माइनस 7 प्रतिशत बारिश रिकार्ड की गई।

किसानों को रिकार्ड पैदावार की उम्मीद
आम तौर पर कम बारिश के चलते फसल पैदावार कम रहती है। लेकिन इस बार अच्छी बारिश हो रही है जिसके चलते किसानों को रिकार्ड पैदावार की उम्मीद है। खरीफ फसल बुवाई का लक्ष्य 7.12 लाख हैक्टेयर है लेकिन बारिश के चलते यह आंकड़ा बढ़ सकता है।

106 प्रतिशत ज्यादा बारिश अच्छा संकेत

  • अब तक सामान्य से 106 प्रतिशत ज्यादा बारिश अच्छा संकेत है। किसानों के लिए यह काफी फायदेमंद साबित होगा। 22 से 25 जुलाई के बीच अच्छी बारिश की संभावना बनी हुई है। फिलहाल किसानों को इस दौरान खेतों में सिंचाई व कीटनाशी छिड़काव नहीं करना चाहिए।

-अतुल गालव, कृषि मौसम वैज्ञानिक

खबरें और भी हैं...