बाबा रामदेव मंदिर के पट 10 दिन के लिए बंद:7 से 17 सितंबर तक श्रद्धालु नहीं कर पाएंगे समाधि के दर्शन, कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के चलते मेला कर दिया था स्थगित, श्रद्धालुओं का आना जारी

जैसलमेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मंदिर का मुख्य दरवाजा बंद। - Dainik Bhaskar
मंदिर का मुख्य दरवाजा बंद।

लोक देवता बाबा रामदेव के समाधिस्थल के पट आज से 10 दिन तक श्रद्धालुओं के लिए बंद कर दिए गए हैं। 17 सितंबर तक रामदेवरा आने वाले श्रद्धालु बाबा रामदेव की समाधि के दर्शन नहीं कर पाएंगे। कोरोना संक्रमण और तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए जैसलमेर जिला प्रशासन ने भादवा मेले को पहले ही स्थगित कर दिया है। ऐसे में मंगलवार से 17 सितंबर तक बाबा रामदेव के मंदिर के मुख्य दरवाजे को बंद कर दिया गया है। ऐसे में श्रद्धालुओं को बाहर से ही हाथ जोड़कर संतोष करना पड़ रहा है।

सूना पड़ा मंदिर परिसर।
सूना पड़ा मंदिर परिसर।

तीसरी बार मेला स्थगित
बाबा रामदेव समाधि समिति द्वारा मंगलवार से पट बंद होने की सूचना पहले से ही दे दी गई थी। मेला समिति ने श्रद्धालुओं से मेले के दौरान रामदेवरा नहीं आकर अपने घरों में रहकर बाबा रामदेव की आराधना करने की अपील की गई थी। जिसके कारण रामदेवरा में श्रद्धालुओं की भीड़ भी काफी कम हो गई। अब नाम मात्र के श्रद्धालु रामदेवरा आ रहे हैं। जिससे यहां के बाजार सूने हो गए है और चहल-पहल कम हो गई है।

गौरतलब है कि रामदेवरा में हर साल भादवा महीने में शुक्ला दूज से पूर्णिमा तक मेले का आयोजन होता है। जिसमे देशभर के 40 से 50 लाख श्रद्धालु भाग लेते हैं और बाबा रामदेव की समाधि के दर्शन करते हैं। लेकिन कोरोना के कारण लगातार तीसरी बार मेले का आयोजन रद्द हुआ है। जिससे श्रद्धालुओं में निराशा का माहौल है।

मंदिर में बाबा रामदेव की आरती।
मंदिर में बाबा रामदेव की आरती।

प्रशासन दूसरे राज्यों में भिजवा रहा सूचना
पोकरण SDM राजेश बिश्नोई ने बताया कि समाधिस्थल के पट बंद होने कि सूचना प्रदेश भर में प्रशासन व पुलिस को भिजवाई गई है। सभी जिलों में प्रशासन व पुलिस की ओर से श्रद्धालुओं को रोककर समझाइश की जा रही है। प्रशासन की तरफ से उनको मेला स्थगित होने कि सूचना दी जा रही है ताकि श्रद्धालु यहां पहुंचकर निराश न हो।

मंगलवार को कम दिखे जातरू
बाबा रामदेव के भादवा मेले के शुरू होने से पहले से ही रामदेवरा में जातरूओं की रेलमपेल शुरू हो गई थी। कल तक रामदेवरा में भारी भीड़ देखी जा सकती थी। लेकिन मंगलवार को सुबह से ही श्रद्धालुओं की संख्या कम हो गई है। सुबह से ही बाबा रामदेव मंदिर के दरवाजे बंद होने से लोग बाहर से ही दर्शन करके लौट रहे हैं। आमजन तक ये जानकारी भी पहुंच चुकी है कि इस बार भी मेला स्थगित है। इसलिए लोगों ने आना कम कर दिया है।

खबरें और भी हैं...