पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लॉकडाउन के चलते दो बार काम हुआ प्रभावित:एक माह में दोनों अंडरब्रिज से आवागमन हो जाएगा शुरू, रेलवे ने भी दी अनुमति

बालाेतरा9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

ओवरब्रिज कार्य के चलते गत दो साल से बदहाल यातायात व्यवस्था पर परेशानी का सामना कर रहे शहरवािसयों के लिए सुकून भरी खबर है। प्रथम व द्वितीय रेलवे फाटक पर निर्माणाधीन अंडरब्रिज की बाउंड्री निर्माण की रेलवे बोर्ड से अनुमति मिलने पर अब कार्य प्रगति पर हैं।

इस पर आगामी एक माह के भीतर दोनों ही अंडरपास बनकर तैयार होने के बाद आवागमन भी शुरु कर दिया जाएगा। ऐसे में प्रथम रेलवे फाटक से यातायात दबाव काफी कम होने से वाहन चालकों को जाम की समस्या से निजात मिलेगी।

इसके साथ ही कचहरी रोड़ व खेड़ रोड़ पर चल रहा आरओबी का कार्य भी तेजी से चल रहा है। अब रेलवे ट्रैक पर बने पिलर पर लोहे के गाॅटर डालने को लेकर रेलवे विभाग से अनुमति मांगी गई है, अनुमति मिलते ही दो माह में ओवरब्रिज का कार्य भी पूरा हो जाएगा।

उल्लेखनीय है कि शहर में बढ़ते यातायात दबाव पर हरदम रहने वाली जाम की स्थिति से शहरवासियों को हर रोज परेशानी का सामना करना पड़ रहा था, इसे लेकर लंबे समय से लोगांे की मांग पर सरकार की ओर से ओवरब्रिज स्वीकृति कर जुलाई 2019 में कार्य शुरु किया गया।

ओवरब्रिज का कार्य दिसंबर 2020 तक पूरा होना था, लेकिन कोविड के चलते दो बार लॉकडाउन लगने के साथ ही रेलवे चारदीवारी में बनने वाले पिलरों की अनुमति में देरी होने से कार्य अभी तक पूरा नहीं हो पाया है।

वर्तमान में कचहरी रोड़ पर नाला निर्माण व सर्विस रोड के बाद अब सड़क का कार्य चल रहा है। वहीं खेड़ रोड पर स्लैब रखे जाने का कार्य प्रगति पर है। पचपदरा रोड़ पर कार्य दो माह पहले ही पूरा हो चुका है, ऐसे में ग्रेडर डालने के अलावा ओवरब्रिज का 85 फीसदी से अधिक काम पूरा हो चुका है।

दोनों अंडरपास की चारदीवारी का काम भी जल्द पूरा होगा, दो माह का समय लगेगा

ओवरब्रिज के साथ ही शहर के द्वितीय रेलवे फाटक से प्रथम रेलवे फाटक व मुख्य बाजार में कामकाज को लेकर पहुंचने वाले वाहन चालकों के आवागमन की सुविधा को देखते हुए दोनों ही फाटकों पर अंडरब्रिज स्वीकृत किए गए थे। इसे लेकर पूर्व में रेलवे बोर्ड से अनुमति मिलने के बाद अंडरपास रखने का कार्य पूरा कर दिया था।

फिर दूसरे चरण में चारदीवारी निर्माण कार्य को लेकर बोर्ड से अनुमति मांगी गई थी, अब इसका कार्य शुरू कर दिया है। करीब एक माह में दोनों अंडरपास की चारदीवारी का कार्य पूरा कर आवागमन शुरू कर दिया जाएगा। वर्तमान में द्वितीय रेलवे फाटक से बैरियर हटाने व अंडरब्रिज का कार्य निर्माणाधीन होने से यातायात प्रथम रेलवे फाटक से गुजरता है।

गार्डर डालने की अनुमति मिलते काम शुरू होगा

ओवरब्रिज का अधिकांश कार्य पूरा हो चुका है। अभी तक रेलवे की जमीन में बने पिलरों पर लोहे के गार्डर डालने की अनुमति नहीं मिली है, इसे लेकर काम अटका हुआ है। रेलवे की अनुमति शीघ्र ही मिल जाती है तो ढाई से तीन माह में ही कार्य पूरा कर यातायात शुरू करवा दिया जाएगा। - हरीसिंह, प्रतिनिधि, कार्यकारी एजेंसी।

खबरें और भी हैं...