46 लाख की ठगी करने वाला गिरोह गिरफ्तार:क्यूनेट कंपनी में निवेश करवाने के नाम पर ठगी, झांसा देकर वसूले लाखों रुपए, पुलिस ने 3 आरोपियों को किया गिरफ्तार

जैसलमेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस की गिरफ्त में ठग गिरोह के सदस्य। - Dainik Bhaskar
पुलिस की गिरफ्त में ठग गिरोह के सदस्य।

भणियाना पुलिस ने मंगलवार को बड़ी कामयाबी हासिल करते हुए ठगी के एक बड़े गिरोह को गिरफ्तार किया है। इस गिरोह ने 46 लाख 21 हज़ार रुपए की रकम की बड़ी ठगी की थी। पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि 10 सितंबर को पुलिस थाना भणियाणा में एक व्यक्ति ने उसके साथ कंपनी के नाम पर 46 लाख 21 हजार रुपए की ठगी करने का मामला दर्ज करवाया। अचलाराम पुत्र नखताराम निवासी रातड़िया भणियाणा ने मुकदमा दर्ज करवाते हुए जोधपुर निवासी अजय मूंड, रघुवीर दास, राम प्रकाश, उगमा राम के खिलाफ धोखाधड़ी करने और कंपनी के नाम पर 46 लाख 21 हजार रुपए ठगने का आरोप लगाया। पुलिस ने मामला दर्ज कर मंगलवार को तीन आरोपियों को जोधपुर से गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल कर ली।

क्या है मामला
परिवादी ने मामले में बताया कि इन सभी लोगों ने उससे अलग-अलग समय में लाखों रुपए वसूल किए। जिसके साथ ही पैसे मांगने पर सभी ने रुपए को कंपनी में लगाने की बात कही। वहीं कंपनी के उच्चाधिकारियों से पूछने पर उन्होंने इन सभी द्वारा कंपनी में भी ठगी करने की बात कही। रुपए मांगने पर अभी तक इन लोगों द्वारा रुपए नहीं लौटाए गए हैं। जिसके कारण युवक भणियाणा पुलिस थाना में धारा 420, 406, 120 बी के तहत मुकदमा दर्ज किया।

अचलाराम ने एफआईआर में बताया कि अजय मूंड ने स्वयं के पिता की बीमारी को लेकर कुल 6 लाख रुपए लिए। इसके साथ ही रघुवीर ने मेरे मित्र से पार्टनरशिप के नाम पर 25 लाख 30 हजार रुपए स्वयं के खाते में डलवाए। इसके साथ ही रघुवीर, उगमा राम, रामप्रकाश व अजय ने अलग अलग समय में उसके पोर्टल से भी रुपए निकाले। रुपए मांगने पर इन लोगों द्वारा टॉर्चर किया जा रहा है। ऐसे में अलग-अलग समय में चारों व्यक्तियों ने 3 लाख 50 हज़ार, 6 लाख रुपए, 6 लाख रुपए, 5 लाख 41 हज़ार और 25 लाख 30 हज़ार रुपए कुल 46 लाख 21 हजार रुपए क्यूनेट कंपनी के नाम पर धोखा व अंधविश्वास कर खाते में जमा करवाए।

ठगी करने वाले की युवक से पहले थी जान पहचान
अचलाराम ने बताया कि करीब दो साल पहले मेरे मित्र व परिचित अजय मूंड रातडिया आया और उससे जोधपुर में ह्यूज इंटरनेशनल बिजनेस प्रोजेक्ट में काम करने की बात कही। इसके साथ ही उसने युवक को जोधपुर आने की बात कह बड़े-बड़े सपने दिखाए। अजय मूंड ने उसको बिजनेस पार्टनर बनाने का झांसा देकर जोधपुर बुलाया तथा अन्य लोगों से जान पहचान करवाई। उन्होंने बिजनेस शुरू करने का झांसा देकर 3 लाख 50 हजार रुपए जमा करवाने की बात कही। इन लोगों ने उससे कंपनी के खाते में रुपए नहीं जमा करवाकर नकद में लिए। इसके बाद अब तक कुल 46 लाख 21 हजार रुपए ठग लिए।

शिकंजे में ठग गिरोह
आरोपी रघुवीर दास पुलिस थाना खेड़ापा अपना नगर चौपासनी हाउसिंग बोर्ड जोधपुर, अजय मूंड पुलिस थाना बालेसर फिलहाल जोधपुर व उगमाराम उर्फ कैलाश निवासी ओसियां को डाली बाई मंदिर के पास जोधपुर से गिरफ्तार किया गया। फिलहाल पुलिस सभी आरोपियों से कड़ाई से पूछताछ कर रही है।

खबरें और भी हैं...