पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भास्कर गाइड:रीट एग्जाम में मोबाइल, घड़ी व ज्वैलरी नहीं ले जा सकेंगे

जैसलमेर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 26 को होने वाली परीक्षा के प्रवेश पत्र 16 सितंबर के बाद डाउनलाेड हाेने की संभावना है

26 सितंबर काे हाेने वाली राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट एग्जाम) में प्रदेशभर से 16 लाख से अधिक अभ्यर्थी बैठेंगे। 4153 केंद्रों पर दो पारियों में परीक्षा देंगे। गृह विभाग की ओर से जारी काेविड गाइडलाइन के तहत छात्रों की बैठक व्यवस्था की जाएगी। इसमें पहली रीट लेवल टू (कक्षा 6 से 8) पहली पारी में सुबह 10 बजे से 12.30 बजे तक और एल-1 (पहली से 5वीं) तक की परीक्षा दोपहर 2.30 से शाम छह बजे तक होगी।

प्रवेश पत्र 16 सितंबर के बाद से डाउनलाेड हाेने की संभावना है। तय समय से देरी से पहुंचने पर अभ्यर्थियाें काे प्रवेश नहीं दिया जाएगा। एग्जाम सेंटर पर थर्मल स्कैनिंग, मास्क, सेनेटाइजर व सोशल डिस्टेंसिंग, पुलिसकर्मियाें की व्यवस्था की जाएगी। रीट एग्जाम का रिजल्ट नवंबर में आने की संभावना है। रीट एग्जाम की पहली पारी में अभ्यर्थियाें काे सुबह 8.45 बजे से प्रवेश शुरू कर दिया जाएगा। दूसरी पारी में दाेपहर 1.15 से प्रवेश शुरू कर दिया जाएगा। एग्जाम से आधा घंटे पहले एग्जाम सेंटर में प्रवेश बंद कर दिया जाएगा। सेंटर पर करीब एक घंटे पहले पहुंचना हाेगा।

सभी परीक्षा केंद्रों पर होगी वीडियोग्राफी

संवेदनशील और अति संवेदनशील परीक्षा केंद्रों में वीडियोग्राफी होगी। निजी स्कूलों में परीक्षा केंद्रों में आधे पर्यवेक्षक सरकारी होंगे और सुपरवाइजर का काम भी सरकारी कार्मिक ही करेंगे।

पेपर पहुंचने से के दाे घंटे पहले इंटरनेट बंद हाेगा

आरबीएसई के निर्देशानुसार केंद्राें पर प्रश्न पत्र पहुंचने से कम से कम दो घंटे पहले ही इंटरनेट सुविधा को बंद कर दी जाएगी। परीक्षा वाले दिन परीक्षा केंद्र पर कक्षाओं, कोचिंग या हॉस्टल का संचालन भी नहीं होगा।

एग्जाम देने वाले परीक्षार्थी ये भी जानें

सवाल : क्या पानी की बाेतल ले जा सकेंगे

जवाब : अभ्यर्थी परीक्षा केंद्र पर अपने साथ पानी की पारदर्शी बोतल लेकर जा सकेंगे। पारदर्शी बाेटल के अलावा किसी भी प्रकार की पानी की बाेटल नहीं ले जा सकेंगे।

सवाल : कंट्रोल रूम कब चालू हाेगा

जवाब : रीट से पहले 20 सितंबर से बोर्ड कार्यालय में केंद्रीय कंट्रोल रूम शुरू होगा, जो 22 सितंबर तक सुबह 10 बजे से शाम 6 बजे तक और 23 सितंबर से 27 सितंबर तक सुबह 8 बजे से रात 10 बजे तक चालू रहेगा। हर जिले में अलग से जिला कंट्राेल रूम भी बनाया गया है। जहां से केंद्रों की मॉनिटरिंग की जाएगी।



खबरें और भी हैं...