पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Barmer
  • 11 Months Ago In Mandsaur, Hawala Was Robbed Of 44 Lakhs, Went To Ahor To Collect 7 Lakh Rupees, Strangled Murder, Body Thrown In Kayalana Lake

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

हत्या का मामला:11 माह पहले मंदसौर में हवाला के लूटे थे 44 लाख, हिस्से के 7 लाख रुपए लेने आहोर गया था, तार से गला दबा हत्या, शव कायलाना झील में फेंका

बाड़मेर/जालोरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बाड़मेर. सिवाना थाने के बाहर शव के साथ प्रदर्शन करते लोग। - Dainik Bhaskar
बाड़मेर. सिवाना थाने के बाहर शव के साथ प्रदर्शन करते लोग।
  • सिवाना थाने के बाहर थानेदार के खिलाफ प्रदर्शन, आहोर में एक आरोपी गिरफ्तार, दो नाबालिग निरुद्ध

जालोर जिले के आहोर थाना क्षेत्र से 21 मार्च को अपहृत हुए सिवाना निवासी ड्राइवर की बदमाशों ने उसी दिन हत्या कर दी थी। इसके बाद शव को जोधपुर की कायलाना झील में फेंक कर आराेपी फरार हाे गए। आहोर पुलिस को तलाशी के दौरान रविवार दोपहर को शव कायलाना झील से मिल गया। वारदात में शामिल एक आरोपी को भी गिरफ्तार करते हुए पुलिस ने 2 नाबालिगों को भी निरुद्ध किया है। हत्या के मामले मे गिरफ्तार आरोपी से पूछताछ में मामला लेनदेन से जुड़ा हुआ होना सामने आया है।

अपहृत युवक समेत आरोपियों मिलकर कुछ समय पहले लूट की थी, जिनके रुपयों के बंटवारे के विवाद में महेंद्र खां की हत्या की है। इधर, मंगलवार को परिजनों ने आक्रोश जताते हुए सिवाना थाने के बाहर शव रखकर प्रदर्शन किया। राजस्व मंत्री हरीश चौधरी, सिवाना विधायक हमीरसिंह भायल सहित अधिकारियों ने मौके पर पहुंच समझाइश की तब जाकर परिजनों ने शव उठाया।

21 मार्च को सिवाना क्षेत्र के कुसीप निवासी महेंद्र खान पुत्र खमीश खां लूट के मामले में शामिल अपना हिस्सा लेने जालोर के लिए निकला था, जहां से बदमाशों ने युवक का अपहरण कर लिया। अपहृत युवक के भाई की रिपोर्ट पर 25 मार्च को पुलिस थाना आहोर में मामला दर्ज किया गया। जबकि 23 मार्च को युवक के गुम होने की गुमशुदगी सिवाना थाने में दर्ज हुई थी। 28 मार्च को महेंद्र खान का शव जोधपुर के कायलाना झील से बरामद हुआ।

बादनवाड़ी निवासी अजयपाल सिंह पुत्र गुमान सिंह राजपुरोहित को गिरफ्तार कर लिया। मामले में शामिल केलावा कला जोधपुर निवासी अजयपाल सिंह पुत्र उर्फ एपी सिंह पुत्र जबरसिंह राजपूत व उसके भाई यशपाल सिंह पुत्र जबर सिंह राजपूत की तलाश जारी है।

हत्या की टाइमलाइन

  • 21 मार्च- युवक महेंद्र खां पैसे के लेनदेन को आहोर गया।
  • 22 मार्च- महेंद्र खां की हत्या कर शव कायलाना में डाला।
  • 23 मार्च- परिजनों ने सिवाना थाने में गुमशुदगी दर्ज करवाई।
  • 25 मार्च- अपहरण का आहोर थाने में मामला दर्ज करवाया।
  • 28 मार्च- महेंद्र खां का शव जोधपुर के कायलाना में मिला।
  • 29 मार्च-परिजनों ने शव के साथ थाने के बाहर धरना दिया।
  • 30 मार्च-आरोपी गिरफ्तार, समझाइश के बाद शव उठाया।

कार की डिक्की में डाल कर शव 150 किमी. दूर जोधपुर कायलाना ले गए
मृतक उसके दो नाबालिग दोस्तों के साथ 21 मार्च की रात को बादनवाड़ी पहुंचा। यहां एक होटल पर नाबालिग ने फोन कर आनंदसिंह को बुलाया। जहां पर सभी ने चाय पी। यहां से महेंद्र खान, अजयपाल सिंह समेत आरोपी कार में बैठ गए। इसके बाद बादनवाड़ी निवासी आनंदसिंह पुत्र गुमानसिंह राजपुरोहित अपनी मोटरसाइकिल बादनवाड़ी घर पर रखकर महेंद्र खां के साथ कार में बैठ गया। वहां से आनंद सिंह, अजयपाल सिंह समेत महेंद्र खान के साथ आए दोस्तों ने मिलकर बादनवाड़ी व मीठड़ी रास्ते पर महेंद्र खान का तार से गला घाेंटकर हत्या कर दी। इसके बाद शव कार की डिक्की में डालकर जाेधपुर ले गए और हाथी नहर कायलाना झील में फेंक कर सभी फरार हो गए।

पूछताछ में रुपयों के लेनदेन एवं बंटवारे को लेकर विवाद सामने आया। पुलिस ने बताया कि 11 माह पहले मृतक महेंद्र खान व आरोपी अजयपाल सिंह समेत साथियों ने मिलकर मध्यप्रदेश के मंदसौर से हवाला के 44 लाख रुपए लूटे थे। यह सभी पैसे आनंद सिंह के पास थे। महेंद्र खान के हिस्से में आ रहे करीब 7 लाख रुपए भी आनंद सिंह के पास थे। वह 11 माह से पैसाें के लिए चक्कर लगा रहा था, लेकिन आनंदसिंह दे नहीं रहा था। 21 मार्च काे भी महेंद्र खान अपना हिस्सा लेने बादनवाड़ी जालोर पहुंचा था। जहां उसका अपहरण कर बंधक बना दिया और तार से उसका गला दबा हत्या कर दी। इसके बाद हत्या को आत्महत्या में बदलने के लिए उसका शव गाड़ी में डाल जोधपुर के कायलाना झील में डाल दिया। 8 दिन बाद 28 मार्च को शव कायलाना झील से बरामद हुआ।

सिवाना में थाने के बाहर प्रदर्शन, समझाइश के बाद माने परिजन
अपहरण के बाद युवक की हत्या करने के मामले को लेकर पिछले दो दिन से आक्रोशित परिजन व समाज के लोगों के साथ सर्वसमाज के लोग भी शव के साथ सिवाना थाने के बाहर धरने पर बैठे रहे। सिवाना विधायक हमीरसिंह भायल की ओर से तीन लाख रुपए, राजस्व मंत्री हरीश चौधरी की ओर से एक लाख रुपए पीड़ित परिवार को देने के बाद प्रशासन ने सरकार से सहायता करवाने व थानाधिकारी के खिलाफ जांच करवाने का आश्वासन दिया। इसके बाद परिजन शव उठाने पर राजी हुए। परिजनों ने सिवाना थानाधिकारी काे हटाने की मांग की। दो दिन में पांच से छह बार प्रशासन व धरना प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों में वार्ता हुई, लेकिन हर वार्ता असफल रही।

अंतिम वार्ता के दौरान एक कमेटी का गठन कर वार्ता शुरू हुई, जिसमें सिवाना एसएचओ को हटाने की मांग को सात दिन में जांच कर दोषी पाए जाने पर हटाने की बात स्वीकार की गई। शेष आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार करने का आश्वासन, मुआवजे के तौर पर सिवाना विधायक हमीरसिंह भायल ने तीन लाख, राजस्व मंत्री हरीश चौधरी ने एक लाख रुपए का सहयोग करने आश्वासन दिया। प्रधान व एसडीएम सिवाना ने विभाग से जो भी मदद होगी वो देने की बात कही।

इस पर कमेटी सदस्यों ने शव व धरना उठाने का निर्णय लिया। इस दौरान वार्ता में सिवाना प्रधान मुकनसिंह राजपुरोहित, कुसीप सरपंच हुकमसिंह, जाकिर हुसैन बेलिम, दीन मोहम्मद हाड़ा, पीरु खान, भगवतसिंह भायल, पपू खिलजी, अनवर हाड़ा सहित एसडीएम कुसुमलता चौहान, एएसपी निरंजन आर्य, डीएसपी धनफूल मीणा सहित समदड़ी तहसीलदार शंकर लाल गर्ग मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- दिन सामान्य ही व्यतीत होगा। कोई भी काम करने से पहले उसके बारे में गहराई से जानकारी अवश्य लें। मुश्किल समय में किसी प्रभावशाली व्यक्ति की सलाह तथा सहयोग भी मिलेगा। समाज सेवी संस्थाओं के प्रति ...

    और पढ़ें