PHOTO रोशनी से जगमगा उठा पारलू गांव:दीपावली पर्व पर 51 सार्वजनिक स्थलों पर लगाए एक साथ 11 हजार दीपक

बाड़मेर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पारलू गांव में एक साथ लगाए 11 हजार दीपक। - Dainik Bhaskar
पारलू गांव में एक साथ लगाए 11 हजार दीपक।

दीपो का पर्व दीपावली देश भर में बड़े ही धूमधाम से मनाया जा रहा है। बाड़मेर के पारलू में दीपावली की रात को अनोखे ढंग से तालाब, मंदिर, अस्पताल, स्कूल सहित 51 स्थलों पर 11 हजार दीपक लगाए। एक साथ जले 11 हजार दीपक से पूरा पारलू गांव रोशनी से जगमगाने लग गया। गांव में जगमगाती रोशनी मेट्रो सिटी से कम नजर नहीं आ रही थी।

पारलू मंदिर पर जलते दीपक।
पारलू मंदिर पर जलते दीपक।

दरअसल, बालोतरा उपखंड के पारलू सरपंच मगनाराम चौधरी ने दो दिन पहले ही प्लान मनाया कि इस बार दीपावली पर्व पारलू गांव को दीपक की रोशनी से जगमगाना चाहिए। सरपंच ने अपने गांव के लोगों के साथ चर्चा की। गुरुवार की रात को धर्मपुरा (चबूतरा स्थल) सहित पारलू के 51 सार्वजिनक स्थलों पर दीपक लगाए गए। धर्मपुरा तालाब पर 5 हजार दीपक लगाए और 6 हजार दीपक स्कूल, मंदिरों, स्वास्थ्य केंद्र सहित सार्वजिनक स्थलों पर लगाए गए। दीपक लगाने में पूरे गांव के लोगों का सहयोग रहा। एक साथ 11 हजार दीपक की रोशनी से पारलू गांव का नजारा मेट्रो सिटी से कम नहीं था।

पारलू गांव के सार्वजिनक स्थल पर लगाए गए दीपक।
पारलू गांव के सार्वजिनक स्थल पर लगाए गए दीपक।
दीपक की रोशनी से जगमगा उठे स्थल।
दीपक की रोशनी से जगमगा उठे स्थल।

11 हजार दीपक लगाने में गांव लोग शामिल

ग्राम विकास अधिकारी सुरेंद्र सिंह ने मुताबिक सरपंच मगनाराम के प्रयासों से 11 हजार दीपक को तैयार करने में 100 से ज्यादा लोगों का सहयोग रहा। गुरुवार की रात को पूरे गांव के लोगों के सहयोग से 11 हजार दीपक जलाए गए। इससे पूरा गांव रोशनी से जगमगा उठा। सुरेंद्र सिंह ने बताया कि दो दिनों तक दीपक लगाने के लिए तैयारी की गई। गौरतलब है कि बीते कोरोनो के दो वर्ष बाद इस साल बाड़मेर सहित पूरे प्रदेश में दीपावली पर्व बड़े ही धूमधाम से मनाया जा रहा है।

तालाब के चारों तरफ लगाए गए दीपक।
तालाब के चारों तरफ लगाए गए दीपक।