कोरोना अपडेट:कोरोना से 21 मौतें; 237 पॉजिटिव, रेमडेसिविर के 200 इंजेक्शन आए, 6 टन ऑक्सीजन पहुंची

बाड़मेर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो।

जिले में गुरुवार को 237 नए पॉजिटिव केस आए। इसके साथ संक्रमितों का आंकड़ा 2379 पहुंच गया। आरटी पीसीआर की रिपोर्ट के मुताबिक 11 पॉजिटिव की मौत हुई। वहीं सीटी स्कैन की रिपोर्ट के अनुसार 10 संक्रमितों ने दम तोड़ा। यानी एक दिन में 21 कोरोना रोगियों की मौत हुई। गौरतलब है कि बुधवार को एक दिन में 23 मरीजों की मौतें हुई थी। जिले में कोरोना पॉजिटिव मरीजों के साथ मौतों का आंकड़ा भी लगातार बढ़ रहा है।

सीएमएचओ डॉ. बीएल विश्नोई ने बताया कि गुरुवार को 3234 सैंपल की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई। इसमें 237 पॉजिटिव आए। वहीं आरटीपीसीआर की रिपोर्ट के अनुसार 11 रोगियों की मौत हुई। सीटी स्कैन की जांच रिपोर्ट में संक्रमित पाए गए 10 मरीजों की मौत हुई। मौतों का आंकड़ा सरकारी रिकार्ड के अनुसार 113 पहुंच गया। वहीं 29 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया।

लापरवाही: लॉकडाउन के बावजूद लापरवाही

शहर समेत ग्रामीण क्षेत्रों में 3 मई तक लॉकडाउन लागू है। बावजूद इसके लोग कोरोना गाइडलाइन की पालना नहीं कर रहे हैं। इस वजह से पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है। बाजार बंद होने के बावजूद व्यापारी चोरी-छुपके सामान दे रहे हैं। वहीं लोग भी कोरोना की परवाह किए बिना ही सामाग्री खरीदने पहुंच रहे हैं। इस स्थिति में संक्रमण का आंकड़ा कम होने की फिलहाल संभावना नहीं है।

व्यवस्था: मंत्री के प्रयास 6 टन ऑक्सीजन की सप्लाई

जिला अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट से नियमित सप्लाई के बावजूद ऑक्सीजन की खपत पूरी नहीं हो रही है। जिला अस्पताल में रोजाना डिमांड 900 सिलेंडर की है। गुरुवार को राजस्व मंत्री हरीश चौधरी के प्रयास से 6 टन ऑक्सीजन की सप्लाई बाड़मेर पहुंची। इससे काफी राहत मिली है। आगे जरूरत के मुताबिक सप्लाई मिलने की संभावना है।

राहत: विधायक के प्रयास 200 रेमडेसिविर पहुंचे

जिले में रेमडेसिविर की समस्या से निजात दिलाने के लिए जनप्रतिनिधि लगातार प्रयास कर रहे हैं। गुरुवार को 200 रेमडेसिविर की सप्लाई बाड़मेर पहुंची। बाड़मेर विधायक मेवाराम जैन ने बताया कि स्वास्थ्य मंत्री से वार्ता के बाद बाड़मेर को दो सौ इंजेक्शन की सप्लाई दी गई है। इस संबंध में उच्च अधिकारियों से वार्ता के बाद पर्याप्त सप्लाई का आश्वासन दिया गया है। आगामी दो-तीन दिन बाद डिमांड के अनुसार इंजेक्शन की सप्लाई दी जाएगी।

खबरें और भी हैं...