पीएचईडी का प्लान मंजूर:बाड़मेर शहर में 13.09 करोड़ की लागत सेे बनेंगे 4 एसआर,16 वार्डों में पेयजल समस्या होगी खत्म

बाड़मेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अगले माह टेंडर जारी होने के बाद काम शुरू होगा। - Dainik Bhaskar
अगले माह टेंडर जारी होने के बाद काम शुरू होगा।

शहर में कम प्रेशर व पानी सप्लाई के अंतराल में कमी लाने के लिए जलदाय विभाग की ओर से समस्याग्रस्त चार क्षेत्राें में एसआर व नई पाइप लाइनाें का कार्य जल्द ही करवाया जाएगा। पीएचईडी की ओर से बनाई गए 13.09 कराेड़ रुपए के प्रोजेक्ट काे प्रशासनिक व वित्तीय स्वीकृति मिल चुकी है। प्रोजेक्ट की तकनीकी स्वीकृति के लिए पीएचईडी विभाग की ओर से जयपुर मुख्यालय फाइल भेजी गई है।

इसकी स्वीकृति भी दाे से तीन दिन में आएगी। स्वीकृति के साथ टेंडर जारी किए जाएंगे और एक से डेढ़ माह में कार्य शुरू किया जाएगा। एसआर निर्माण के लिए नगर परिषद की ओर से भूमि आवंटित की गई है। प्रोजेक्ट के तहत शहर के इंदिरा नगर, शास्त्रीनगर, रोहिड़ा पाड़ा व लाल डूंगरी में चार एसआर बनाए जाएंगे। वहीं जिन वार्डों में पानी की समस्या अधिक है या कम प्रेशर से पानी सप्लाई हाे रहा है, उन वार्डाें की मैन पाइप लाइनाें की क्षमता बढ़ाने के लिए नई पाइप लाइनें बिछाई जाएगी।

महिला थाने के पास स्थित जीरो प्वाइंट पर नहरी पानी स्टोरेज के लिए लगे पंपों की क्षमता भी बढ़ाई जाएगी। चार एसआर में तीन की क्षमता 500 केएल तथा एक 300 केएल क्षमता का बनेगा। 77.53 लाख रुपए से पांच साल तक ऑपरेशन एंड मेंटेनेंस करवाया जाएगा। नए एसआर बनने के साथ शहर के 16 वार्डाें में जहां कम प्रेशर की समस्या अक्सर बनी रहती है, उन उपभाेक्ताओं काे अब टैंकरों से पानी डलवाने से निजात मिल सकेगी तथा जेब खर्च बचेगा। शहर में पानी सप्लाई के अंतराल में भी कमी हाेगी।

शहर में कम प्रेशर व बार-बार लाइनें जाम होने की समस्या से मिलेगी निजात

1. 500 केएल क्षमता का बनेगा इंदिरा नगर में एसआर, 6 वार्ड हाेंगे लाभान्वित: शहर के इंदिरा नगर में हिंगलाज मंदिर के पास 500 केएल (किलाे लीटर) क्षमता का एसआर (उच्च जलाशय) बनाया जाएगा। एसआर काे 73 पुलिस लाइन पंप से जाेड़ा जाएगा। इंदिरा नगर क्षेत्र और आस-पास के छह वार्डाें के उपभाेक्ताओं की पाइप लाइनाें काे जाेड़ा जाएगा। वार्ड नंबर 55, 46, 45, 44, 42 व 43 के उपभाेक्ता लाभान्वित हाेंगे।

2. 300 केएल क्षमता का बनेगा शास्त्री नगर एसआर, पांच वार्डाें के लाेगाें काे मिलेगी राहत: शस्त्री नगर में रेलवे फाटक के पास पहले से बने एसआर के पास 300 केएल क्षमता का एक ओर एसआर बनाया जाएगा। इस एसआर की पानी सप्लाई काे काराेली नाडी की ओर जाने वाली 500 डीई की पाइप लाइन से जाेड़ा जाएगा। इससे वार्ड संख्या 25, 23, 24, 16, 26 के घराें में पानी सप्लाई की जाएगी।

3. माेडली डूंगरी पर बनेगा 500 केएल क्षमता का एसआर, दाे वार्डाें सहित ग्रामीणाें काे राहत: शहर के रोहिड़ा पाड़ा स्थित माेडली डूंगरी पर 500 केएल क्षमता का एसआर बनाया जाएगा। इसे कारेली नाडी पंप हाउस से जाेड़ा जाएगा। वार्ड 9,10 के लाेगाें काे राहत मिलेगी। स्वामियाें की गली, नाथूसिंह का बंधा, रामदेव मंदिर, महावीर सर्किल, शनिदेव मंदिर के आस-पास के उपभाेक्ता लाभान्वित हाेंगे।

4. लाल डूंगरी पर बनेगा 500 केएल एसआर, तीन वार्ड हाेंगे लाभान्वित: शहर की लाल डूंगरी पर 500 केएल क्षमता का एसआर बनाया जाएगा। इसे वेणासर नाडी जाने वाली 300 डीआई पाइप लाइन से जाेड़ा जाएगा। एसआर निर्माण से तीन वार्ड 1, 54, 53 में रहने वाले लाेगाें काे कम प्रेशर की समस्या से निजात मिलेगी। लाैहाराें का वास, सुथाराें का वास, हरिजन बस्ती, दर्जियों का वास व गेहूं राेड क्षेत्र के लोगों काे राहत मिलेगी।

जीराे प्वाइंट पर पंपों की क्षमता बढ़ाई जाएगी

महिला थाने के पास बने जीराे प्वाइंट पर पानी स्टोरेज के लिए पंपाें की क्षमता काे बढ़ाया जाएगा। शहर में पीएचईडी की ओर से पानी सप्लाई के लिए जीराे प्वाइंट पर 17 से 20 एमएलडी ही पानी स्टोरेज किया जा रहा है। एेसे में शहर वासियाें की खपत के अनुरूप पानी सप्लाई नहीं हाे पा रही है। प्रोजेक्ट के तहत जीराे प्वाइंट पर पंपाें की क्षमता काे बढ़ाया जाएगा। ऐसे में पानी स्टाेरेज की क्षमता 30 एमएलडी की हाेगी।

प्राेजेक्ट की प्रशासनिक व वित्तीय स्वीकृति मिल गई है। तकनीकी स्वीकृति के प्रपाेजल्स की डिजाइन बनाई गई है। दिसबंर में तकनीकी स्वीकृति मिलेगी। जनवरी से टेंडर प्रक्रिया शुरू हाेगी और फरवरी से कार्य शुरू करवाया जाएगा। 4 एसआर बनने से पानी का प्रेशर बढ़ेगा और उपभाेक्ताओं काे पर्याप्त पानी सप्लाई हाेगा। जीराे प्वाइंट पर पंपों की क्षमता भी बढ़ाई जाएगी। -सतवीरसिंह यादव, एक्सईएन, नगर खंड, पीएचईडी।

प्राेजेक्ट की तकनीकी स्वीकृति आने से पर टेंडर प्रक्रिया हाेगी। फरवरी से निर्माण कार्य के तहत पाइन लाइनें व एसआर निर्माण कार्य शुरू करवाए जाएंगे। नगर परिषद की ओर से भूमि का आवंटित करवाई जाएगी। एसआर बनने से पानी सप्लाई का अंतराल घटेगा। -जयरामदास मेघवाल, एईएन, नगर खंड, पीएचईडी बाड़मेर ।

फैक्ट फाइल: पीएचईडी करेगी 13.09 कराेड़ खर्च

  • पाइप लाइनें जाेड़ने व बिछाने पर खर्च हाेंगे: 11271281 रुपए
  • 90, 110, 125, 140, 160, 180, 200, 250 एमएम की नई पाइप लाइनाें पर खर्च हाेंगे: 41687506 रुपए
  • चार एसआर बनाने के लिए खर्च करेगी: 32239690 रुपए
  • पावर कनेक्शन के लिए खर्च हाेंगे: 1500000 रुपए
  • क्षमता बढ़ाने के लिए नए पंपाें पर खर्च हाेंगे: 16685719 रुपए
  • जमीन आवंटन के लिए: 1258000 रुपए
  • 5 साल तक ऑपरेशन एंड मेंटेनेंस पर खर्च हाेंगे: 7753815 रुपए
  • प्राेजेक्ट पर कुल खर्च हाेंगे: 130997550 रुपए
खबरें और भी हैं...