पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Barmer
  • 500 Weddings In The District, The Band Will Play Music, Not The Shehnaiyan Will Be Heard, There Will Be Rounds In The Day

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना ने बदला शादियों का ट्रेंड:जिले में 500 शादियां, बैंड बाजा बजेगा न शहनाइयां गूजेंगी, दिन में होंगे फेरे

बाड़मेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • प्रीतिभोज में 1000 की जगह 100 लोगों को निमंत्रण, मेहमान व रिश्तेदार घर नहीं सीधे कार्यक्रम स्थल पहुंचेंगे

कोरोनाकाल में शादियों का ट्रेंड भी बदल गया है। दिसंबर की सीजन में एक सौ से अधिक शादियां है। पहली बार बैंड बाजा होगा न शहनाइयां गूजेंगी। वर व वधू पक्ष के लोगों ने रिश्तेदार व नजदीकी लोगों को ही निमंत्रण दिया है।

रिसेप्शन में 50 से 100 लोग ही शामिल होंगे। वे भी बारी-बारी से आएंगे और भोजन करके रवाना हो जाएंगे। 9 दिसंबर के सावों में अधिकांश लोगों ने फेरे भी दिन में रखे हैं। इतना ही नहीं कई परिवारों ने संगीत व बंदौली निकालने के कार्यक्रम ही निरस्त कर दिए हैंं। मेहमानों को घर पर बुलाने की बजाय सीधे समारोह स्थल पर पहुंचे का आग्रह किया जा रहा है।

कार्यक्रम में नहीं पहुंचने वाले रिश्तेदारों के लिए लाइव स्ट्रीमिंग की बुकिंग भी हो चुकी है। कई वाट्सएप ग्रुप के माध्यम से भी निमंत्रण भेज रहे हैं। कोरोना गाइडलाइन की पालना को ध्यान में रखते हुए शादी के कार्डों पर दो गज दूरी मास्क है जरूरी के संदेश भी लिखे हैं। इतना ही नहीं कार्यक्रम में आने वाले लोगों के लिए मास्क अनिवार्य कर दिया है। कोई बिना मास्क भी पहुंच जाएगा तो उसके लिए मास्क की व्यवस्था भी की जा रही है। यानी शादी की रस्मों से ज्यादा कोरोना से बचाव के इंतजाम किए जा रहे हैं।

बैंड बाजा की 80 फीसदी बुकिंग घटी, अब बंदौली निकालने का कार्यक्रम नहीं
जिलेभर में दिसंबर में 7 व 9 को शादियां अधिक है। इन दो सावों में 500 शादियां होगी। आयोजकों ने अभी से तैयारियां शुरू कर दी है। शहर में करीब एक सौ से अधिक शादियां होने के बावजूद बैंड बाजा की बुकिंग सिर्फ 20 फीसदी हुई है। अधिकांश लोगों ने शादी में बैंड के साथ बंदौली निकालने के कार्यक्रम में बदलाव किया है।

ग्रामीण क्षेत्रों में भी कोरोना के खतरे को देखते हुए सीमित लोगों को ही कार्यक्रमों में बुलाया जा रहा है। कई लोगों ने निमंत्रण कार्ड तक नहीं छपवाए है। फोन पर ही परिवार के एक या दो सदस्यों को आमंत्रित किया जा रहा है।

5 की बजाय एक वक्त ही होगा खाना,1000 की जगह 100 लोगों को ही बुलाया, सीधे मैरिज हॉल पहुंचेंगे मेहमान

अधिकांश समाजों में शादी के दौरान पांच बार भोजन का रिवाज है। यानी बंदोला बिठाने से लेकर बारात घर लौटने तक मेहमानों के साथ रिश्तेदारों को घर पर भोजन करवाया जाता है। इस बार ऐसा नहीं हो रहा है। जिनके घर शादी है उन्होंने एक वक्त का खाना देने का कार्यक्रम तय कर दिया है। प्रीतिभोज में ही मेहमान आएंगे। आमतौर पर बड़े परिवार की शादी में एक हजार से पंद्रह सौ लोगों का खाना होता है। इस बार सौ-सौ लोगों को ही बुलाया जा रहा है।
शादियां होती रहेगी, लेकिन जिंदगी से बढ़कर कुछ नहीं

^कोरोनाकाल में शादी करना ही नहीं चाहते थे, लेकिन जरूरी होने पर करनी पड़ रही है। कोरोना की गाइडलाइन की पालना के साथ कार्यक्रम होगा। दो गज दूरी के साथ मास्क अनिवार्य किया है। कार्ड पर भी लिखा है मास्क पहनकर ही आना है। 100 लोगों का ही खाना रखा है। वो भी बारी-बारी से आएंगे और भोजन करके चले जाएंगे।
.-अशोक सेठिया, बाड़मेर

^घर पर शादी को लेकर तैयारियां चल रही है। कोरोनाकाल में शादी की जरूरी रस्में ही निभायी जाएगी। प्रशासन व सरकार की कोराेना गाइडलाइन को ध्यान में रखते हुए कार्यक्रम की कार्ययोजना तैयार की जा रही है। सीमित लोगों को ही निमंत्रण दिया है ताकि भीड़ नहीं हो। मेहमान व रिश्तेदारों को घर की बजाय सीधे कार्यक्रम स्थल पर बुलाया है।
-अशोक धारीवाल, बाड़मेर

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ऊर्जा तथा आत्मविश्वास से भरपूर दिन व्यतीत होगा। आप किसी मुश्किल काम को अपने परिश्रम द्वारा हल करने में सक्षम रहेंगे। अगर गाड़ी वगैरह खरीदने का विचार है, तो इस कार्य के लिए प्रबल योग बने हुए...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser