• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Barmer
  • A Day Before The REET Exam In Balotra, An Accused Teacher Ramesh Vishnoi Was Suspended, Jalore Education Department Is Taking Action Against The Teacher

नकल गिरोह से जुड़ा सरकारी टीचर सस्पेंड:REET से 1 दिन पहले पकड़े गए थे 2 टीचर, बाड़मेर में पोस्टेड रमेश विश्नोई सस्पेंड, सुरेश के खिलाफ जालोर शिक्षा विभाग कर रहा है कार्रवाई

बाड़मेर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नकल गिरोह चलाने वाले आरोपी टीचर। - Dainik Bhaskar
नकल गिरोह चलाने वाले आरोपी टीचर।

बाड़मेर सहित राज्य भर में प्रतियोगी परीक्षा में पास कराने की गारंटी लेकर परीक्षार्थियों से मोटी रकम ऐंठने वाले गिरोह का पुलिस ने खुलासा कर 2 सरकारी टीचर को गिरफ्तार किया था। कार्रवाई के दौरान टीचर सहित 20 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया था। अब इस मामले में शिक्षा विभाग ने आदेश जारी कर 1 टीचर को तुंरत प्रभाव से निलंबित कर दिया है। वहीं जालोर जिले में पदस्थापित टीचर के खिलाफ जालोर शिक्षा विभाग कार्रवाई कर रहा है।

बाड़मेर प्रारंभिक शिक्षा के जिला शिक्षा अधिकारी ऑफिस से जारी आदेश के तहत रमेश कुमार (36) पुत्र बुधाराम निवासी कुड़ी हाल कृष्णा सिटी बालोतरा शिक्षक सरकारी हाई प्राइमरी स्कूल लापुंदड़ा को निलंबित कर दिया गया है। वहीं दूसरे टीचर सुरेश कुमार (35) पुत्र चुतराराम निवासी चितलवाला जालोर टीचर सरकारी हाई प्राइमरी स्कूल हालीवाव का प्रकरण बाड़मेर पुलिस से जालोर शिक्षा विभाग के पास पहुंचा है और कार्रवाई चल रही है। बाड़मेर प्राइमेरी शिक्षा अधिकारी केसरदान रतनु ने बताया है कि रमेश विश्नोई को निलंबित कर दिया गया है। निलंबन काल में टीचर का मुख्यालय सीबीईओ ऑफिस (मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी) पंचायत समिति गडरारोड़ रखा गया है। जालोर प्राइमरी शिक्षा अधिकारी श्रीराम विश्नोई ने बताया है कि टीचर सुरेश का प्रकरण आज मिला है। उसको लेकर विभागीय कार्रवाई की जा रही है।

बता दें कि पुलिस ने बालोतरा मेगा हाईवे स्थित एक घर पर कार्रवाई करते हुए रीट परीक्षा से एक दिन पहले सरकारी टीचर रमेश और सुरेश को गिरफ्तार किया था। रमेश बिश्नोई ने 5 अभ्यर्थियों से 12-12 लाख रुपए लिए थे और उनको परीक्षा से 4 घंटे पहले पेपर सॉल्व करवाकर देने का कहा था। रमेश के घर से कई बैंक खातों की डायरियां, चेक और पासबुक मिली है। सुरेश वर्ष 2012 भर्ती में टीचर बना था। इसके बाद से नकल गिरोह चला रहा था। साल 2018 टीचर भर्ती में रमेश आरोपी सुरेश कुमार के संपर्क में आया और रुपए देकर टीचर बना। फिर इनके साथ गिरोह में जुड़ गया। यह गिरोह पूरे राजस्थान में सक्रिय है। इनके कब्जे से पुलिस ने 9.50 लाख रुपए और एक बिना नंबरी स्कार्पियो बरामद की।

कांस्टेबल समेत 4 कार्मिक भी शामिल
बालोतरा पुलिस ने दो सरकारी शिक्षकों को REET में नकल करवाने के मामले में पकड़ा है। अध्यापिका सीमा पुत्री वैद प्रकाश विश्नोई निवासी निंबली रोहिट, ट्रैफिक कांस्टेबल धर्मेंद्र पुत्र माधाराम विश्नोई निवासी लालजी की डूंगरी जालोर हाल में सांचौर में पदस्थापित, अध्यापिका छम्मी पत्नी गणपतराम निवासी लालजी की डूंगरी हाल राप्रावि. भगवाना कड़वासरों की ढाणी में पदस्थापित है। यह सभी चारों आरोपी फरार है। इसके अलावा पुलिस ने गिरोह के 10 से ज्यादा अन्य सदस्यों को गिरफ्तार किया है। गिरोह करीब 100 से ज्यादा अभ्यर्थियों को नकल करवाने की फिराक में था। 80 अभ्यर्थी पुलिस के राडार पर थे, जो परीक्षा ही देने नहीं आए।

खबरें और भी हैं...