गिरफ्तारी कागजों में शो की ही नहीं:ACB ने दस हजार की रिश्वत लेते दलाल और हैड कांस्टेबल को किया गिरफ्तार, अवैध शराब बेचने के आरोप में पकड़ा फिर छोड़ने के लिए मांगी थी रिश्वत

बाड़मेर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हैड कांस्टेबल उगमदान (बायें) आर दलाल इस्माइल। - Dainik Bhaskar
हैड कांस्टेबल उगमदान (बायें) आर दलाल इस्माइल।

आरोपी को छोड़ने की एवज में दस हजार की रिश्वत लेते दलाल इस्माईल खान और ग्रामीण पुलिस थाने के हैड कांस्टेबल को बाड़मेर एसीबी ने सोमवार को गिरफ्तार कर लिया। एसीबी एसपी रामनिवास सुंडा ने बताया कि कुछ दिन पहले बाड़मेर-जैसलमेर हाईवे पर होटल से देशी शराब ढोला-मारू के 35 पव्वे व 12 बोतल बीयर के साथ नरसिंगा राम को ग्रामीण थाना पुलिस पकड़ कर थाने लाई थी।

नरसिंगा को छोड़ने की एवज में दलाल इस्माईल ने बीस हजार मांगे थे और नरसिंगा को अपने भाई को बुलाने का कहा गया। एससीबी टीम ने सोमवार को इस्माईल को 10 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया। दलाल इस्माईल ने हैड कांस्टेबल उगमदान के कहने पर राशि लेने की बात कही। इस पर उगमदान को फोन करके पूछा तो उसने थाने में आने का कहा जिस पर उगमदान को गिरफ्तार कर लिया गया।

बाड़मेर एससीबी टीम को 11 जून को जैसलमेर फतेहगढ़ निवासी भगाराम पुत्र मोडाराम ने शिकायत की कि मेरे एवं मेरे भाई की खाने की होटल मेडिकल कॉलेज के पास हाईवे पर है। होटल पर ग्रामीण पुलिस थाने का हैड कांस्टेबल उगमदान एवं पुलिस वाले आए और वहां रखी देसी शराब ढोला-मारू के 35 पव्वे व 12 बोतल ट्रर्बो स्ट्रॉग के साथ मेरे भाई नरसिंगाराम को पकड़ कर ग्रामीण पुलिस थाने ले गए। वहां इस्माईल पहले से बैठा हुआ था, मेरे भाई को इस्माईल से डील करने को कहा। इस पर इस्माईल ने 20 हजार रूपए की रिश्वत राशि पहुंचाने एवं सोमवार को जमानत की कार्रवाई करने का कहा।

नरसिंगाराम को नहीं लिया कागजों में

एसीबी की जांच में खुलासा हुआ है कि हैड कांस्टेबल उगमदान ने होटल से देशी शराब के पव्वों और बोतल बीयर के साथ पकड़े जाने के बावजूद नरसिंगा राम को पुलिस कागजों में अभी तक नहीं लिया था। जांच में यह भी सामने आया है कि देशी शराब को लेकर हैड कांस्टेबल मनगढ़ंत कहानी बता रहा है कि यह देशी शराब के एक कट्‌टे में ले जा रहा था पुलिस को देखकर वो कट्‌टा छोड़कर फरार हो गया था।

11 जून को करवाया सत्यापन

एससीबी टीम को शिकायत मिलने के बाद रिश्वत राशि मांग का सत्यापन करवाया गया था, इस पर आरोपी इस्माईल ने परिवादी को नवले की चक्की पर बुलाया एवं कुछ देर में उगमदान हैड कांस्टेबल भी वहां पहुंच गए। उगमदान ने परिवादी को कहा कि इस्माईल के कहने पर तेरे भाई को छोड़ा है सोमवार को इसको पेश कर देना, इस्माईल जितना कहता है उतना कर देना। उगमदान ने यह भी बोला कि ऐसी कार्रवाई होती है तो 2 लाख में भी नहीं छूटते।

10 हजार की रिश्वत लेते किया गिरफ्तार

एससीबी टीम द्वारा सत्यापन करने के बाद सोमवार को परिवादी द्वारा 10 हजार की राशि दलाल इस्माईल को दी गई। आरोपी ने राशि लेकर पेंट की जेब में रख ली और तभी एससीबी टीम ने आरोपी को दबोच लिया। पकड़े जाने पर आरोपी ने कहा, मैंने यह राशि हैड कांस्टेबल उगमदान के कहने पर ली है। इस पर एसीबी ने इस्माईल खान के फोन से उगमदान को फोन करने को कहा तो उसने ग्रामीण थाने में बैठे होने की बात कही। एसीबी टीम ने थाने से उगमदान को गिरफ्तार कर लिया गया।

दलाल ने होटल किराए पर दे रखा था

एससीबी टीम की पूछताछ में यह खुलासा हुआ कि दलाल इस्माईल ने यह होटल किराये पर परिवादी भगाराम को दिया हुआ था।

खबरें और भी हैं...