बैठक का आयोजन:अली बोले- विद्युत चोरियों पर प्रभावी रोकथाम के कदम उठाएं

बाड़मेर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
डिस्कॉम टीम के साथ बैठक करते एएसपी नाजिम अली। - Dainik Bhaskar
डिस्कॉम टीम के साथ बैठक करते एएसपी नाजिम अली।

जिले में विद्युत चोरियों पर प्रभावी रोकथाम के लिए सभी अधिकारी फील्ड पर भ्रमण कर आकस्मिक जांच कर कार्यवाही करें। इससे विद्युत चोरियों पर प्रभावी नकेल कसी जा सकेगी। यह बात अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सतर्कता जोधपुर डिस्कॉम जोधपुर नाजिम अली ने गुरुवार को विद्युत चोरी निरोधक थाना बाड़मेर के निरीक्षण के दौरान डिस्काॅम अधिकारियों के साथ बैठक के दौरान कही।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (सतर्कता) जोधपुर डिस्काॅम, जोधपुर नाजिम अली ने कहा कि विगत कुछ दिनों से जिले में अवैध ट्रांसफार्मर बड़ी संख्या में पकड़ में आए हैं। इससे अंदेशा हैं कि जिले के अन्य जगहों पर भी इस प्रकार की अवैध ट्रांसफार्मर के जरिए विद्युत चोरी की जा रही हैं। इसलिए इस पर प्रभावी अंकुश के लिए टीमें बनाकर सघन सतर्कता जांच की कार्रवाई शुरू की जाए।

उन्होंने कहा कि विद्युत चोरी के कारण आम उपभोक्ताओं को गुणवत्तापूर्ण बिजली नहीं मिल पाती हैं बल्कि छीजत बढ़ने के कारण बिजली भी महंगी हो जाती हैं। बैठक में मुख्य अभियंता (बाड़ जोन) बाड़मेर डाॅ. संजय वाजपेयी, जोधपुर डिस्काॅम बाड़मेर के अधीक्षण अभियंता अजय माथुर, अधिशाषी अभियंता (सतर्कता) जोधपुर डिस्काॅम बाड़मेर दुर्गाराम चौधरी एवं सहायक अभियंता (सतर्कता) जोधपुर डिस्काॅम, बाड़मेर के.के. वैष्णव, प्रावैधिक सहायक कैलाश कुमार, विद्युत चोरी निरोधक थाना के थाना प्रभारी कर्णसिंह मौजूद रहे।

बैठक में जिले में की जा रही सतर्कता जांच की प्रगति रिपोर्ट की समीक्षा की गई एवं सतर्कता जांच की कार्यवाही को ओर ज्यादा प्रभावी बनाने एवं सतर्कता जांच कर छीजत को कम करने के निर्देश दिए। उन्होंने आमजन से भी अपने आस-पास हो रही विद्युत चोरी की सूचना टोल फ्री नंबर 18001806045 एवं खंड स्तर पर स्थापित हेल्प डेस्क नंबर पर दर्ज कराने का आह्वान किया ताकि विद्युत चोरों के खिलाफ प्रभावी कार्रवाई की जा सके।

चोरियों की रोकथाम होने एवं छीजत कम होने से ही आम उपभोक्ताओं एवं किसानों को गुणवत्ता पूर्ण बिजली आपूर्ति हो पाएगी। बैठक से पूर्व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (सतर्कता) जोधपुर डिस्काॅम,नाजिम अली ने थाने का निरीक्षण किया एवं थाना प्रभारी मय पुलिस जवानों की कार्य व्यवस्था की जानकारी लेकर उन्हे सतर्कता जांच के दौरान मुस्तैदी से कार्य करने के निर्देश दिए गए।

खबरें और भी हैं...