पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रेप करने का आरोप:एएसआई पर महिला ने रेप का आरोप लगाकर किया ऑडियो वायरल, पुलिस ने बयान लिए तो बोली: मैं मिर्गी की रोगी, दुष्कर्म नहीं हुआ

बाड़मेर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

एक महिला ने चौहटन थाने के एएसआई पर रेप करने का आरोप लगाकर ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल किया। इसके बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। एसपी आनंद शर्मा ने मामले की जांच के आदेश चौहटन डीएसपी को दिए। चौहटन डीएसपी तत्काल महिला के पास उसके बयान लेने पहुंचे तो बताया कि वो मिर्गी रोगी है और उसका उपचार चल रहा है। उसके साथ इस तरह की कोई घटना नहीं हुई है। जबकि ऑडियो में महिला ने एएसआई पर उसके साथ दो बार रेप करने के आरोप लगाए है।

पुलिस का कहना है कि महिला ब्लैकमेलिंग और दुष्कर्म और छेड़छाड़ के अलग-अलग 13 लोगों के खिलाफ मामले दर्ज करवा चुकी है, जिसमें 9 मामलों की जांच हो गई और वे झूठे पाए गए। ऑडियो वायरल करने के पीछे भी महिला के खिलाफ दर्ज एक ब्लैकमेलिंग के मामले की बात सामने आ रही है।

चौहटन डीएसपी नारायणसिंह ने बताया कि एक महिला का ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ, जिसमें महिला ने 10 सितंबर को कंट्रोल रूम में सूचना दी थी कि 6 महीने पहले उसके साथ एएसआई ने रेप किया है। इसके बाद पुलिस ने मंगलवार को जब महिला के बयान लिए तो उसके साथ किसी तरह की घटना होने से मुकर गई।

पुलिस ने महिला का वीडियो बयान लिया है, जिसमें उसने कहा कि उसके साथ रेप की घटना नहीं हुई है और न ही वो काेई कार्रवाई करवाना चाहती है। उसे मिर्गी का दौरा आता है, तो उसे होश नहीं रहता है, वो उस समय कुछ भी बोल देती है।

ऑडियो के पीछे का सच: महिला के खिलाफ ब्लैकमेल करने के मामले की जांच चल रही थी
चौहटन थाने में एक जने ने एफआईआर दर्ज करवाई थी जिसमें आरोप लगाया था कि एक साल पहले एक महिला से उसकी मुलाकात हुई और वो मुलाकात दोस्ती में बदल गई। इसके बाद महिला ने दो लाख रुपए की डिमांड की, इस पर 18 व 19 फरवरी को 49-49 हजार रुपए चार बार महिला के खाते में जमा करवाए। इसके बाद महिला ने शादी कर ली।

महिला को तीन तोला सोने की निंबोली, मंगलसूत्र सहित कई आभूषण बनाकर दिए। इसके बाद जब परिवार से अलग होकर चौहटन आए तो इस महिला और एक युवक ने उसे बंधक बना कर मारपीट की। इसके बाद उसे धक्के देकर घर से निकाल दिया। महिला ने उसके साथ धोखाधड़ी कर 2 लाख रुपए, जेवरात ले लिए।

पुलिस ने मामला दर्ज कर यह जांच एएसआई रावताराम को दी थी। इस मामले के दर्ज होने के बाद इस महिला ने एफआईआर चौहटन थाने में दर्ज करवाई जिसमें उसी युवक पर एक साल तक उसके साथ दुष्कर्म का मामला दर्ज करवा दिया। महिला ने जांच अधिकारी एएसआई पर दबाव बनाने के लिए इस तरह का ऑडियो वायरल कर दिया। महिला की ओर से दुष्कर्म का मामला दर्ज करवाने के बाद दोनों मामलों की जांच चौहटन एसएचओ कर रहे थे

अब तक 13 मुकदमे दर्ज करवाए, 9 झूठे निकले: पुलिस

चौहटन डीएसपी नारायणसिंह ने बताया कि महिला ब्लैकमेल व रेप के मामले दर्ज करवाती रही है। पिछले 4-5 साल में महिला ने ऐसे 13 मामले दर्ज करवाए है। इसमें 9 मामले जांच में झूठे निकले है। लोगों को ब्लैकमेल करने का काम सालों से कर रही है। अब महिला के खिलाफ मामला दर्ज होने के बाद एएसआई के खिलाफ ऑडियो वायरल हुआ। इसके बाद दो बार पुलिस महिला के बयान लेने गई तो दोनों बार उसने घटना से इनकार किया है। किसी तरह की रिपोर्ट नहीं दी है।

क्रॉस मामलों की जांच ट्रैफिक इंचार्ज को सौंपी

महिला का ऑडियो सामने आने के बाद डीएसपी चौहटन को जांच दी गई। महिला के बयान लिए गए तो बताया कि उसे मिर्गी का दौरा आता है। एएसआई ने उसके साथ न तो रेप किया है और न ही चैन और अंगूठी ली है। पुलिस ने 10 सितंबर को भी बयान लिए थे और अब मंगलवार को भी बयान लिए गए। चौहटन थाने में महिला और उसके पति ने क्रॉस मामले दर्ज करवा रखे हैं। इन मामलों की जांच ट्रैफिक पुलिस इंचार्ज डिंपल कंवर को दी गई है।
-आनंद शर्मा, एसपी, बाड़मेर।

खबरें और भी हैं...