पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Barmer
  • Barmer Was Found To Have The Highest Number Of 505 Corona Infected; 8 People Died, Figure Of Active Patients Reached 3408

कोरोना अपडेट:बाड़मेर में सर्वाधिक 505 कोरोना संक्रमित मिले; 8 लोगों ने दम तोड़ा, एक्टिव मरीजों का आंकड़ा 3408 पहुंचा

बाड़मेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो।

बाड़मेर में कोरोना की रफ्तार बेकाबू होती जा रही है। लगातार बढ़ रहे कोरोना पॉजिटिव केस अब रिकार्ड तोड़ने लगे हैं। गुरुवार को अब तक के सर्वाधिक 505 पॉजिटिव केस आए है। कोरोनाकाल के शुरू होने से अब तक के 15 महीनों में यह रिकार्ड मरीज है। जिला अस्पताल में अब कोविड मरीजों के चलते भर्ती करने के लिए जगह नहीं मिल रही है।

ऐसी स्थिति में 376 बेड के जिला अस्पताल के अतिरिक्त 60 बेड का कन्या छात्रावास, अब 100 बेड का अब महिला कॉलेज में अस्पताल बनाया जा रहा है। गुरुवार को एक ही दिन में 505 पॉजिटिव केस आने के साथ ही 8 रोगियों ने दम तोड़ा है। जिले में अब एक्टिव मरीजों का आंकड़ा बढ़ कर 3408 तक पहुंच गया है। बढ़ते गंभीर रोगियों के कारण ऑक्सीजन व रेमडेसिविर इंजेक्शन का संकट उत्पन्न हो गया है।

वहीं गुरुवार काे जिले के राणीगांव व जालीपा में जीराे मोबिलिटी कर्फ्यू क्षेत्र घोषित किया है।

रोजाना 1100 ऑक्सीजन सिलेंडरों की मांग

रोजाना 1100 सिलेंडर ऑक्सीजन और 250 रेमडेसिविर इंजेक्शन की जरूरत रहती है। इसके बावजूद 500 सिलेंडर ऑक्सीजन बाड़मेर के अलग-अलग प्लांट से उत्पादित हो रही है। जबकि बाकी जनसहयोग और सरकार से दूसरे जिलों से मंगवाने पड़ रहे हैं। बुधवार को 10 टन लिक्विड ऑक्सीजन मिलने से दो दिन के लिए राहत मिली है। जिला अस्पताल को 200 और 50 बालोतरा अस्पताल को रेमडेसिवर इंजेक्शन की जरुरत है।

गर्ल्स कॉलेज को बनाया कोविड अस्पताल
बढ़ते मरीजों के लिए जिला अस्पताल के निकट गर्ल्स कॉलेज को भी कोविड अस्पताल बनाया है। जहां मरीजाें को भर्ती करने के लिए बेड लगाए गए है। गौरतलब है कि जिला अस्पताल में मरीज बढ़ने के बाद दो बालिका छात्रावासों को कोविड अस्पताल बनाया था।

अब वो दोनों फुल होने के बाद महिला कॉलेज को बनाया गया है। जिले में 350 एचआरसीटी व 97 आरटीपीसीआर मरीज भर्ती है।

खबरें और भी हैं...