• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Barmer
  • Becoming A Fake Drug Officer In Barmer City, Demanded Money From The Medical Store, Threatened To Cancel The License If The Money Was Not Given, The Police Caught In Two Days

फर्जी ड्रग ऑफिसर बन दुकानदार को धमकाया:रुपए नहीं देने पर दी लाइसेंस निरस्त करने की धमकी, पुलिस ने दो दिन में पकड़ा

बाड़मेर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस की गिरफ्त में फर्जी ड्रग ऑफिसर। - Dainik Bhaskar
पुलिस की गिरफ्त में फर्जी ड्रग ऑफिसर।

बाड़मेर शहर में एक मेडिकल की दुकान पर फर्जी ड्रग ऑफिसर बनकर लाइसेंस निरस्त करने और पैसे लूटने का मामला सामने आया था जिस पर पुलिस ने दो दिन में खुलासा करते हुए फर्जी ड्रग ऑफिसर को गिरफ्तार कर लिया है।

दरअसल, अम्बेडकर कॉलोनी के मेडिकल स्टोर पर फर्जी ड्रग ऑफिसर बनकर गया और मेडिकल स्टोर मालिक से रुपए मांगे। रुपए नहीं देने पर लाइसेंस निरस्त करने के लिए धमकाया और जबरदस्ती दुकाने के गले से 700-800 रुपए लूट कर ले गया। पीड़ित मानाराम पुत्र ने कोतवाली पुलिस में मामला दर्ज करवाया है।

इस पर कोतवाली पुलिस ने एसआई छगनलाल डांगी के नेतृत्व में टीम बनाकर कॉलोनी के आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाले और टैक्नोलॉजी के आधार पर तलाश शुरू की तो पुलिस ने बाड़मेर शहर नवले की चक्की निवासी मनदीप सिंह पुत्र अंतर सिंह शेख को गिरफ्तार किया।

कोतवाल उगमराज सोनी ने बताया कि परिवादी की रिपोर्ट के बाद हमने तुंरत ही टीम बनाकर छानबीन शुरू कर दी। टीम ने दो ही दिन में आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है और आरोपी से पूछताछ के बाद आरोपी अपना जुर्म भी कबूल कर लिया है।

पुलिस ने कोर्ट किया पेश

पुलिस ने से शनिवार को कोर्ट में पेश किया है कोर्ट ने आरोपी को न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया है। वहीं, पुलिस अब इस पूरे मामले की जांच में जुटी है कि आखिर किस तरीके से फर्जी मेडिकल ऑफिसर बन कर पिछले लंबे समय से यह लोगों को चूना लगा रहा था।

खबरें और भी हैं...