विवाहिता का टांके में मिला शव:भाई बोला- सुसाइड का रूप देने के लिए हत्या करके टांके में डाला

बाड़मेर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मृतका शांतिदेवी। - Dainik Bhaskar
मृतका शांतिदेवी।

बाड़मेर जिले के समदड़ी थानान्तर्गत गिराध का ढाणा गांव में टांके में डूबने से विवाहिता की मौत का मामला सामने आया है। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और कड़ी मशक्कत के बाद 12 घंटे बाद शव को बाहर निकाला। वहीं, पीहर पक्ष ने ससुराल वालों पर हत्या कर टांके में डालने की रिपोर्ट पुलिस को दी है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

पुलिस के अनुसार शुक्रवार देर शाम को सूचना मिली कि समदड़ी इलाके के गिराध का ढाणा गांव के टांके में तीन बच्चों की मां शांति देवी (35) पत्नी सूजाराम ने टांके में कूदकर सुसाइड कर लिया। पुलिस ने शव को बाहर निकालने का प्रयास किया लेकिन गंदा पानी एवं पर्याप्त संसाधन नहीं होने से शव निकालने में असफल रही। पीहर पक्ष सूचना देने के बाद शनिवार सुबह पीहर पक्ष भी पहुंच गया। पुलिस ने ग्रामीणों के सहयोग से शव को बाहर निकालकर समदड़ी अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया। मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया। विवाहिता का पति दूसरे राज्य में काम करता है।

18 साल पहले हुई थी शादी

मृतका के भाई घेवरराम पुत्र करनाराम निवासी चाली ने रिपोर्ट दी कि उसकी बहन की शादी 18 वर्ष पहले गिराध का ढाणा निवासी सुजाराम के साथ हुई थी। इसके 11 वर्ष एवं 5 वर्ष की बेटिया है और एक 8 वर्ष का पुत्र है। रिपोर्ट में बताया कि मृतका को देवर चेनाराम, सांस गजरों देवी, गोद सांस झमकू देवी, काकी ससुर प्रभुराम ने मिलकर हत्या कर शव को टांके में फेंक दिया। हत्या को आत्महत्या का रूप देने की कोशिश की जा रही है।

मामला दर्ज जांच शुरू

समदड़ी एएसआई चेलाराम ने बताया कि मृतका के भाई की रिपोर्ट पर मामला दर्ज कर लिया है। मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवा दिया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आने के बाद मौत के कारणों का पल चल पाएगा। फिलहाल जांच शुरू कर दी है।

फोटो और इनपुट : सुनील दवे