पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ईद पर भारत-पाक के बीच बंटी मिठाइयां:पुलवामा हमले के बाद पहली बार बीएसएफ ने पाक रेंजर्स को भेंट किए गडरा के लड्‌डू, बाड़मेर बॉर्डर पर बीएसएफ और पाक रेंजर्स ने एक-दूसरे को दी बधाइयां

बाड़मेर12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बीएसएफ और पाक रेंजर्स एक दूसरे को मिठाई भेंट करते हुए। - Dainik Bhaskar
बीएसएफ और पाक रेंजर्स एक दूसरे को मिठाई भेंट करते हुए।

भारत-पाकिस्तान के बीच लंबे तनाव के बाद बुधवार को ईद उल जुहा पर बीएसएफ और पाक रेंजर्स के बीच मिठाइयों का आदान-प्रदान किया गया। बाड़मेर की बीएसएफ चौकियां मुनाबाव, गडरा, केलनोर से ईद पर एक-दूसरे के गले मिले।

पुलवामा अटैक के बाद से भारत-पाकिस्तान के बीच रिश्तों में दरार आ गई थी। दोनों देशों की सीमाओं पर हालात तनावपूर्ण थे। इसकी वजह से दोनों देशों की ओर से त्योहारों के अवसर पर एक-दूसरे को मिठाई देना-लेना भी बंद हो गया था।

पाकिस्तान की ओर से भेंट की गई मिठाई
पाकिस्तान की ओर से भेंट की गई मिठाई

बीएसएफ ने गडरा के लड्‌डू भेंट किए

बुधवार को ईद के मौके पर बाड़मेर के मुनाबाव जीरो लाइन पर स्थित गडरारोड़, कैलनोर, बाखासर सीमा चौकियों पर सीमा सुरक्षा बल के अधिकारियों की ओर से पाकिस्तान को ईद की बधाई दी और बीएसएफ और पाक रेंजर्स के बीच मिठाई का आदान-प्रदान किया गया। भारत की ओर से बीएसएफ ने बाड़मेर जिले के प्रसिद्ध गडरा (कस्बा) के लड्‌डू के पैकेट भेंट किए। करीब ढाई साल बाद दोनों देशों के बीच किसी त्यौहार पर मिठाई का आदान-प्रदान किया गया है।

मिठाई का आदान-प्रदान करते दोनों देशों के सैनिक।
मिठाई का आदान-प्रदान करते दोनों देशों के सैनिक।

पुलवामा हमले के बाद पहली बार भारत ने पाकिस्तान की ओर दोस्ती का हाथ बढ़ाया है। ईद पूरे विश्व में मनाई जा रही है। भारत की इस पहल का पाकिस्तानी रेंजर्स ने भी शुक्रिया अदा किया है। गौरतलब है कि 14 फरवरी 2019 से पहले जब भी कोई भी खुशी का मौका यानी होली, दिवाली, ईद, 26 जनवरी, 15 अगस्त पर दोनों देश एक दूसरे को बधाई के साथ ही मिठाइयां भेंट करते थे, लेकिन 14 फरवरी 2019 के बाद दोनों देशों के रिश्ते खराब हो गए। इसका असर यह हुआ कि दोनों देशों की बॉर्डर की सीमाओं पर खुशी के मौके पर मिठाई भेंट करना भी बंद कर दिया गया था।

खबरें और भी हैं...