भारत-पाक के बीच बंटी मिठाइयां:तीन साल बाद दीपावली पर बीएसएफ ने भेंट की मिठाई, पाक रेंजर्स ने शुक्रिया कहा

बाड़मेर3 महीने पहले
बीएसएफ और पाक रेंजर्स एक-दूसरे को मिठाई देते हुए।

दीपावली पर भारत-पाक इंटरनेशनल बॉर्डर पर गुरुवार को BSF और पाक रेंजर्स के बीच मिठाइयों का आदान-प्रदान हुआ। बाड़मेर की BSF चौकियों पर बीएसफ के जवानों ने पाक रेंजर्स को मिठाई भेंट की। पाक रेंजर्स ने भी BSF जवानों को मिठाई भेंट की।

जिले के बीएसएफ की मुनाबाव, गडरारोड़, केलनोर, बाखासर की चौकियों पर मिठाइयों का आदान-प्रदान किया गया। दोनों देश के अधिकारियों ने एक-दूसरे को दीपावली की शुभकामनाएं दीं।

बाड़मेर इंटरनेशनल बॉर्डर पर मिठाई भेंट करते हुए भारत और पाकिस्तान के जवान।
बाड़मेर इंटरनेशनल बॉर्डर पर मिठाई भेंट करते हुए भारत और पाकिस्तान के जवान।

बीएसएफ ने गडरा के लड्‌डू भेंट किए
बीएसएफ के जवानों ने बाड़मेर के मुनाबाव जीरो लाइन पर स्थित गडरारोड़, कैलनोर, बाखासर सीमा चौकियों पर सीमा सुरक्षा बल के अधिकारियों की ओर से पाकिस्तान रेंजर्स को मिठाई भेंट की। भारत की ओर से बीएसएफ ने बाड़मेर जिले के प्रसिद्ध गडरा (कस्बा) के लड्‌डू के साथ-साथ अन्य मिठाइयों के पैकेट भेंट किए। करीब तीन साल बाद दोनों देशों के बीच दीपावली पर्व पर मिठाई का आदान-प्रदान किया गया है।

पाकिस्तानी रेंजर्स बीएसएफ जवानों को मिठाई भेंट करते हुए।
पाकिस्तानी रेंजर्स बीएसएफ जवानों को मिठाई भेंट करते हुए।

पुलवामा अटैक एवं बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद दोनों देशों के रिश्तों में दरार आ गई थी। इस वर्ष ईद, स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर भी दोनों देशों के बीच मिठाइयों का आदान-प्रदान हुआ था। अब तीन वर्ष बाद पहली बार दीपावली पर मिठाइयों का आदान-प्रदान हुआ है।