नाबालिग को भगाकर ले जाने वाला आरोपी गिरफ्तार:पोक्सो में मामला दर्ज, आरोपी रिमांड पर

बाड़मेर10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नाबालिग को भगा ले जाने वाला आरोपी पुलिस गिरफ्त में। - Dainik Bhaskar
नाबालिग को भगा ले जाने वाला आरोपी पुलिस गिरफ्त में।

बाड़मेर जिले के सिवाना थानान्तर्गत पादरू गांव में नाबालिग को बहला फुसलाकर ले जाने वाले आरोपी को गिरफ्तार कर नाबालिग को परिजनों को सुपुर्द कर दिया है। आरोपी नाबालिग का रिश्ते में चाचा लगता है।पुलिस ने नाबालिग के बयान के आधार पर पोक्सो में मामला दर्ज कर आरोपी से पूछताछ कर रही है। दरअसल करीब 15 दिन पहले सिवाना थाने में नाबालिग की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज हुई थी। पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए तलाश शुरू की। तलाश में सामने आया कि पादरू इलाके का एक युवक बहला फुसलाकर ले गया। जो नाबालिग के रिश्ते में चाचा लगता है। पुलिस नाबालिग की तलाश में जोधपुर, पाली, बाड़मेर के विभिन्न इलाकों में तलाश की लेकिन नाबालिग का पता नहीं लग पाया।

पुलिस ने बनाई टीम

एसपी दीपक भार्गव के निर्देशानुसार पुलिस थाना स्तर पर एएसआई प्रेमाराम व पादरू चौकी इंचार्ज हेड कांस्टेबल घमंडाराम के नेतृत्व में दो टीमों का गठन किया गया। दोनों टीमों ने तकनीकी व साइबर टीम की मदद से आरोपी पादरू गांव निवासी गोविंद पुत्र जेठाराम को बुधवार को सिवाना कस्बे में घूमते हुए गिरफ्तार कर लिया। नाबालिग को बाल कल्याण समिति के सामने पेश किया गया। नाबालिग के बयान लेकर परिजनों को सुपुर्द कर दिया गया।

पोक्सों में मामला दर्ज

नाबालिग के बयान के आधार पर पुलिस ने पोक्सो में मामला दर्ज कर लिया है। आरोपी गोविंद को कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट ने 2 दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है। नाबालिग को भगाकर ले जाने के पीछे उसका क्या मकसद था।

नाबालिग के परिवार की आर्थिक स्थिति खराब
पीड़िता के परिवार की स्थिति को देखते हुए पुलिस ने परिवार को विभिन्न सरकारी योजनाओं से जोड़ने प्रयास किया। सरकार की पालनहार व संजीवनी योजना जोड़ने के लिए प्रकरण को एसडीएम को भेजा है।