• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Barmer
  • Education Department Hiked Exam Fee For 9th And 11th By Two And A Half Times, Earlier It Was Rs.10, Now It Will Take Rs.25

छात्र-छात्राओं काे महंगी पड़ेगी वार्षिक परीक्षा:शिक्षा विभाग ने 9वीं व 11वीं का परीक्षा शुल्क ढाई गुना तक बढ़ाया, पहले 10 रुपए थे, अब 25 रुपए लेंगे

बाड़मेर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो
  • काेराेना में शिक्षा विभाग ने ढूंढ़ा कमाई का जरिया

काेराेना में जहां सरकार अलग-अलग तरीके से लाेगाें काे राहत देने में लगी है, वहीं शिक्षा विभाग ने कमाई का नया जरिया निकाल लिया है। आगामी दिनाें में हाेने वाली 9वीं व 11वीं की परीक्षा महंगी कर दी है। निदेशालय ने सभी स्कूलाें से 25 रुपए प्रति स्टूडेंट लेना तय किया है। निदेशालय ने आदेश जारी करते हुए कहा है कि प्रति स्टूडेंट 25 रुपए के हिसाब से जमा कराए जाएं। आपकाे बता दें कि निदेशालय द्वारा तय की गई यह फीस माैजूदा फीस का करीब ढाई गुना है।

स्कूलाें काे अब तक 10 रुपए परीक्षा के देने हाेते थे। इसमें अर्द्धवार्षिक परीक्षा का शुल्क भी शामिल हाेता था। वर्तमान हालाताें में अर्द्धवार्षिक परीक्षाओं का आयाेजन ताे हुआ ही नहीं है, लेकिन स्कूलाें काे इसकी कीमत भी बढ़ाकर चुकानी पड़ेगी। यह पैसा निजी व सरकारी सभी स्कूलाें द्वारा जमा कराया जाएगा। जिले में 9वीं व 11वीं कक्षा में निजी व सरकारी स्कूलाें के करीब डेढ़ लाख विद्यार्थी परीक्षा में शामिल हाेंगे।

ऐसे में यदि यह परीक्षा जिला स्तर पर हाेती ताे स्कूलाें से 15 लाख रुपए लिए जाते, लेकिन अब स्कूलाें काे 25 लाख रुपए जमा कराने हाेंगे। शिक्षक संघ के नेताओं का कहना है कि शिक्षा विभाग काे साेचना चाहिए कि स्कूल पहले ही आर्थिक संकट से गुजर रहे हैं। उस पर इस तरह के आदेश गलत हैं। इससे बेहतर ताे परीक्षाएं जिला स्तर पर ही हाेती, ताे ठीक रहता। यहां ताे फीस की नाैबत आई हुई है उसके बाद परीक्षाओं के लिए यह बढ़ा हुआ पैसा लेना औचित्यहीन है।

यह कहा है निदेशालय ने आदेशाें में
निदेशालय से जारी आदेशाें में कहा गया है कि जिला समान परीक्षा में कक्षा 9 व 11 के प्रश्नपत्र मुद्रण व वितरण के लिए कार्यालय पंजीयक काे नाेडल बनाया गया है। कक्षा 9 के लिए प्रश्नपत्र बुकलेट मय उत्तरपुस्तिका उपलब्ध कराई जाएगी और कक्षा 11 में केवल प्रश्नपत्र ही उपलब्ध कराए जाएंगे। इस कार्य के लिए जिला समान परीक्षा संचालन समिति द्वारा प्रति विद्यार्थी लिया जाने वाला शुल्क 25 रुपए रहेगा।

खबरें और भी हैं...