प्रभारी सचिव ने फ्लैगशिप योजनाओं की समीक्षा बैठक ली:पानी-बिजली की आपूर्ति सुनिश्चित करें व चारे की कमी न हो

बाड़मेर2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जिले के प्रभारी सचिव डॉ.राजेश शर्मा ने राज्य सरकार के कल्याणकारी कार्यक्रमों एवं फ्लैगशिप योजनाओं का अधिकाधिक लाभ पात्र व्यक्तियों तक पहुंचाने के निर्देश दिए है। - Dainik Bhaskar
जिले के प्रभारी सचिव डॉ.राजेश शर्मा ने राज्य सरकार के कल्याणकारी कार्यक्रमों एवं फ्लैगशिप योजनाओं का अधिकाधिक लाभ पात्र व्यक्तियों तक पहुंचाने के निर्देश दिए है।

जिले के प्रभारी सचिव डॉ.राजेश शर्मा ने राज्य सरकार के कल्याणकारी कार्यक्रमों एवं फ्लैगशिप योजनाओं का अधिकाधिक लाभ पात्र व्यक्तियों तक पहुंचाने के निर्देश दिए है। शनिवार को कलेक्ट्रेट कॉन्फ्रेंस हॉल में पानी, बिजली, सड़क, शिक्षा एवं स्वास्थ्य सहित विभिन्न आवश्यक सेवाओं तथा फ्लैग शिप योजनाओं की समीक्षा कर रहे थे।

इस अवसर पर डॉ. शर्मा ने वर्तमान में जिले में पड़ रही भीषण गर्मी के दौर में लोगों को राहत पहुंचाने को कहा। उन्होंने कहा कि हर हाल में लोगों को पानी बिजली समय पर मिले तथा पशुधन के लिए चारे की कमी नहीं आए। उन्होंने बताया कि यह दो माह सर्वाधिक विकट है तथा अधिकारी इसे चुनौती मान पूरी क्षमता से कार्य करें।

शर्मा ने मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में वंचित रहे लोगों का पंजीयन करवाने के निर्देश दिए है। उन्होंने जिले की चिकित्सा इकाइयों में निशुल्क दवाओं की उपलब्धता की जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने सामाजिक सुरक्षा योजनाओं की समीक्षा की तथा कोरोना पीड़ित परिवारों को राशि के वितरण की बकाया प्रकरणों की जानकारी ली। प्रभारी सचिव ने पानी, बिजली, सड़क, चिकित्सा, आदि आवश्यक सेवाओं की समीक्षा की एवं इनकी समय पर अदायगी सुनिश्चित करने को कहा।

उन्होंने निर्देश दिए कि इन दिनों अधिकारी जन सेवाओं की प्रदायगी के लिए धरातल पर अधिक कार्य करें। उन्होंने मानव के साथ ही पशुधन के लिए पेयजल एवं चारे पानी को प्रबंधन को भी प्राथमिकता से करने को कहा।इस मौके पर जिला कलेक्टर लोक बंधु ने जिले में पब्लिक सर्विस डिलीवरी की जानकारी दी एवं राज्य सरकार की फ्लैगशिप योजनाओं की प्रगति से अवगत कराया।

बैठक में मुख्य कार्यकारी अधिकारी ओमप्रकाश विश्नोई, उपखंड अधिकारी समंदर सिंह भाटी समेत विभिन्न विभागों के जिलाधिकारी मौजूद रहे। इसके पश्चात प्रभारी सचिव ने गेहूं स्थित 400/220 केवी जीएसएस एवं उत्तरलाई में 1 मेगावाट के साेलर प्लांट का निरीक्षण किया। इस दौरान उपखंड अधिकारी समंदर सिंह भाटी तथा अधीक्षण अभियंता अजय माथुर उनके साथ रहे।

खबरें और भी हैं...