कड़ाके की ठंड:पात-पात ओस की बूंदें; इस सीजन की सबसे सर्द रात, तापमान 8.6 डिग्री तक पहुंचा

बाड़मेर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गुरुवार को इस साल का सबसे ठंडा दिन रहा, रात का पारा 8.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। - Dainik Bhaskar
गुरुवार को इस साल का सबसे ठंडा दिन रहा, रात का पारा 8.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मावठ के दौर से शुरू हुई कड़ाके की सर्दी से लोगों को राहत मिलती नजर नहीं आ रही है। नए साल के बाद अब फिर से पारा 8 डिग्री तक पहुंच गया है। गुरुवार को इस साल का सबसे ठंडा दिन रहा, रात का पारा 8.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। जबकि अधिकतम पारा 22.7 डिग्री रहा। दिनभर शीत लहर से लोग ठिठुरते रहे। गांवों में सर्दी का सितम इतना ज्यादा है कि रात के समय फसलों पर ओस गिरने के बाद अब बूंदें जम रही है। सर्दी के कारण दिन व रात में राहत मिलती नजर नहीं आ रही है। एक तरफ कोरोना का संक्रमण और दूसरी तरफ सर्दी बढ़ने से मौसमी बीमारियां भी बढ़ रही है। ऐसे में लोगों को स्वास्थ्य के प्रति सावचेत रहने की जरूरत ज्यादा बढ़ गई है।

8 दिन में 14 से आठ डिग्री पहुंचा पारा
बाड़मेर में मावठ के बाद पारा लगातार गिर रहा है। 5 जनवरी को रात का पारा 14.6 डिग्री था, जो अब गिर कर 8.6 डिग्री तक पहुंच गया है। 8 दिनों में 6 डिग्री तक रात का पारा गिर चुका है। पारे में गिरावट की वजह से सर्दी जोर पकड़ रही है। गुरुवार को नए साल का सबसे ठंडा दिन रहा।

खबरें और भी हैं...